चंद्रबाबू ने आर्थिक पिछड़ों का सदैव किया है विरोध: जस्टिस ईश्वरय्या

जस्टिस ईश्वरय्या - Sakshi Samachar

अमरावती: जस्टिस ईश्वरय्या ने एक साक्षात्कार में कहा कि चंद्रबाबू नायडू आर्थिक पिछड़ों का सदैव विरोध करते आये हैं। उन्होंने बीसी या एससी वर्ग के लोगों के साथ कभी न्याय नहीं किया है। उनके कल्याण और विकास को उन्होंने हमेशा रोकने का प्रयास किया है। कापु समुदाय के कल्याण एवं विकास को लेकर चंद्रबाबू का कोई सेवाभाव नहीं है। इन बातों को जानते हुए कापु समुदाय के लोग उन पर भरोसा नहीं करते।

जस्टिस ईश्वरय्या ने कहा कि राजधानी क्षेत्र का चुनाव और हैदराबाद हाई-टेक सिटी की योजना के पीछे चंद्रबाबू की सामाजिक व्यवस्था के अलावा अन्य कोई योजना नहीं है। आर्थिक पिछडों के प्रति उनकी कोई आस्था नहीं है। चंद्रबाबू नायडू ने न्याय व्यवस्था को अपने नियंत्रण में करने का भी प्रयास किया।

इसे भी पढ़ेें:

आईटी ग्रिड्स डेटा चोरी मामले की उच्च न्यायालय में हुई सुनवाई, जज ने पूछे ये सवाल

उन्होंने कहा कि वोट के बदले नोट मामले चंद्रबाबू रंगेहाथ पकड़े गये। यह सही मायने में क्वीड प्रो मामला है। चंद्रबाबू के खिलाफ चार्जशीट दाखिल करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि डेटा चोरी का मतलब है किसका वोट रखना है और किसका वोट हटाना है। किसी को इसकी जानकारी नहीं होने से डेटा चोरी हुई। अन्यथा डेटा की क्या जरूरत? इसलिए चंद्रबाबू गलत नीतियों को अंजाम देते हैं। जस्टिस ईश्वरय्या ने कहा कि लोगों को बिना किसी प्रलोभन, किसी के सामने घुटने नहीं टेकते और निष्पक्ष रूप से मतदान करना चाहिए।

Advertisement
Back to Top