यह पॉल के नहीं, चंद्रबाबू के शातिर दिमाग का खेल है, उतार दिए एक जैसे नाम वाले कैंडीडेट

डिजाइन फोटो - Sakshi Samachar

अमरावती : आंध्र प्रदेश में आगामी विधानसभा व लोकसभा चुनाव में वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के वोट बांटने के लिए बड़ी साजिश रची जा रही है। टीडीपी प्रमुख चंद्रबाबू के डायरेक्शन में प्रजाशांति पार्टी के अध्यक्ष के.ए. पॉल नाच रहे हैं। चंद्रबाबू और के.ए.पॉल की दोस्ती दशकों पुरानी है।

वाईएसआर कांग्रेस को नुकसान पहुंचाने के इरादे से चंद्रबाबू मतदाताओं को गुमराह करने के लिए ओछी हरकतों पर उतर आए हैं। चंद्रबाबू के इशारे पर प्रजा शांति पार्टी आंध्र प्रदेश के कई विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों में वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवारों के नाम से मेल खाते नामों के उम्मीदवारों को उतारी है।

नामांकन दाखिल करने के आखिरी दिन केवल अनंतपुर जिले में 8 विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों में यह साजिश रची गई है। चंद्रबाबू नायडू के इशारे पर केए पॉल उम्मीदवारों के नाम से वोटरों में भ्रम फैला रहे हैं। वाईएसआरसीपी उम्मीदवारों के नाम से मेल खाते नाम वाले व्यक्तियों को अपनी पार्टी के उम्मीदवार बना रही है।

रायदुर्गम से वाईएसआरसीपी के उम्मीदवार कापु रामचंद्रा रेड्डी के खिलाफ उंडाला रामचंद्रा रेड्डी, उरवकोंडा में वाईएसआरसीपी के उम्मीदवार विश्वेश्वर रेड्डी के खिलाफ विश्वनाथ रेड्डी, कल्याणदुर्गम से वाईएसआरसीपी के उम्मीदवार ऊषा श्रीचरण के खिलाफ ऊषा रानी को केए पॉल ने चुनाव मैदान में उतारा है।

उसी तरह, राप्ताडु में वाईएसआरसीपी के उम्मीदवार तोपुदुर्ति प्रकाश रेड्डी के खिलाफ डी. पक्राश, पेनुंकोंडा में पार्टी के उम्मीदवार एम. शंकर नारायाण के खिलाफ एस. शंकर नारायण, कदिरी से वाईसीपी उम्मीदावर केतीरेड्डी वेंकटरामी रेड्डी के खिलाफ पेद्दीरेड्डीगारी वेंकटरामीरेड्डी तथा कदिरी से वाईएसआरसीपी उम्मीदवार सिद्धारेड्डी के खिलाफ नन्नका सिद्धारेड्डी को प्रजा शांति पार्टी ने उम्मीदवार बनाया है। यही नहीं,

अनंतपुर अर्बन निर्वाचन क्षेत्र में पगड़ी वेंकटरामी रेड्डी नामक व्यक्ति से प्रजाशांति पार्टी की तरफ से नामांकन करवाया है, जो राशन डीलर्स संघ के जिला अध्यक्ष के अलावा टीडीपी का नेता है। अनंतपुर जिले में वाईएसआरसीपी उम्मीदवारों के खिलाफ प्रजाशांति पार्टी के उम्मीदवारों को देखकर लगता है कि टीडीपी और प्रजा शांति पार्टी के बीच किस तरह का अंदरूनी सांठगांठ है और इस साजिश के पीछे चंद्रबाबू नायडू का हाथ है।

चंद्रबाबू के साथ के.ए. पॉल

प्रकाशम जिले में भी यही हुआ है। परचुर विधानसभा सीट से वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार डॉ. दग्गुबाटी वेंकटेश्वर राव चुनाव लड़ रहे हैं। उनकी जीत की अधिक संभावनाओं को देखकर उन्हें नुकसान पहुंचाने की साजिश रची गई है।

प्रजा शांति पार्टी ने दग्गुबाटी वेंकटेश्वर राव नाम वाले ओंगोल के पेल्लकूरु गांव निवासी को परचुरु से चुनाव मैदान में उतारा है। गुंटूर जिले में भी यही हाल है। पेदकुरुपाडु निर्वाचन क्षेत्र से वाईएसआरसीपी के उम्मीदवार नंबूरी शंकर राव के खिलाफ उसी नाम वाले नंबूरी शंकर राव को प्रजा शांति पार्टी ने अपना उम्मीदवार बनाकर वोटरों को भ्रमित करने की कोशिश की है।

यहीं पर प्रजा शांति पार्टी की साजिश यहीं खत्म नहीं होती है। वाईएसआरसीपी के चुनाव चिन्ह सीलिंग फैन है, तो प्रजा शांति पार्टी का चुनाव चिन्ह हेलीकाप्टर है। ऐसे में ईवीएम पर लगी पार्टियों की सूची में वाईएसआरसीपी के पीछे प्रजा शांति पार्टी आ सके, ऐसी योजना बनाई गई।

इसे भी पढ़ें :

मंच पर चंद्रबाबू के सामने बोला पूर्व विधायक, महिलाओं के पैसे लूट रहे हैं TDP के नेता..!

तेलंगाना के तर्ज पर आंध्र प्रदेश के चुनाव में भी साजिश रची गई है। टीडीपी कार्यालय से मिल रहे आदेश के मुताबिक केएल पॉल काम कर रहे हैं। वाईएसआरसीपी को नुकसान पहुंचाने के लिए टीडीपी और जन सेना द्वारा खेले जा रहे गेम में केए पॉल भी भूमिका निभा रहे हैं।

प्रजा शांति पार्टी के चुनाव चिन्ह हेलीकाप्टर के पैड और वाईएसआरसीपी के चुनाव चिन्ह फैन देखने में एक जैसे होने का हवाला देते हुए विजयसाई रेड्डी ने चुनाव आयोग से प्रजा शांति पार्टी का चुनाव चिन्ह हेलीकाप्टर को बदलने की अपील की।

उन्होंने कहा कि प्रजाशांति पार्टी का अंगवस्त्र भी वाईएसआरसीपी के अंगवस्त्र से मेल खाता है। उन्होंने चुनाव आयोग से शिकायत की कि केए पॉल और चंद्रबाबू ने मिलकर वोटरों को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं।

Advertisement
Back to Top