हैदराबादः चुनाव से पहले राजनीतिक दलों के नेता एक-दूसरे पर हमला करने के लिए किसी भी हद तक जाने के लिए तैयार हैं। इसी कड़ी में आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने चुनाव प्रचार के दौरान बिहार जेडीयू के उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर को लेकर एक विवादित टिप्पणी की है।

चंद्रबाबू नायडू ने आंध्र प्रदेश के ओंगोल में एक जनसभा को संबोधितक करते हुए कहा, 'बिहारी डकैत प्रशांत किशोर ने आंध्रप्रदेश में लाखों वोट कटवा दिए।'

चंद्रबाबू नायडू ने तेलंगाना के मुख्यमंत्री पर हमला करते हुए कहा कि, वह गुंडागर्दी की राजनीति कर रहे हैं। उन्होंने चंद्रशेखर राव पर कांग्रेस और टीडीपी के विधायकों को तोड़ने का आरोप भी लगाया। नायडू ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, बिहारी डकैत प्रशांत किशोर ने आंध्रप्रदेश के लाखों लोगों के वोट कटवा दिए हैं।'

कौन हैं प्रशांत किशोर

आपको बता दें कि वर्तमान में प्रशांत किशोर बिहार की सत्तारूढ़ जेडीयू पार्टी के उपाध्यक्ष हैं। बता दें कि कि जेडीयू में शामिल होने से पहले प्रशांत किशोर एक सफल रणनीतिकार के तौर पर जाने जाते रहे हैं।

गौरतलब है कि साल 2014 के लोकसभा चुनाव में प्रशांत किशोर ने नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री बनाने के अभियान की चुनावी रणनीति बनाने में अहम भूमिका निभाई थी।

वाईएस जगन मोहन रेड्डी व प्रशांत किशोर
वाईएस जगन मोहन रेड्डी व प्रशांत किशोर

आपको बता दें कि प्रशांत किशोर का आंध्रप्रदेश से सीधा संबंध नहीं है लेकिन उनकी चुनावी प्रचार के लिए सेवा देने वाली कंपनी आईपैक इन दिनों वाईएसआर कांग्रेस का प्रचार अभियान थामे हुए है। संभवतः इसीलिए चंद्रबाबू नायडू ने उनका नाम लिया हो।

इसे भी पढ़ेंः

राहुल के सामने लगे ‘मोदी-मोदी’ के नारे, बौखलाए कांग्रेसियों ने क्या किया...देखें वीडियो

लोकसभा चुनाव 2019: कांग्रेस ने 56 उम्मीदवारों की पांचवीं लिस्ट की जारी, इन दिग्गजों को मिला टिकट

आंध्र प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले वाईएस जगन मोहन रेड्डी को मिल भरपूर समर्थन को देखते हुए चंद्रबाबू नाययू के हौसले पस्त पड़ चुके हैं। यही नहीं हवा का रुख देखते हुए चंद्रबाबू नायडू की पार्टी टीडीपी के कई सांसद और विधायक पार्टी का दामन छोड़ वाईएसआरसीपी में शामिल हो चुके हैं, यह सिलसिला लगातार जारी है।