हैदराबादः टेक्कली आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम जिले के 10 विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों में से एक है। 2014 के विधानसभा चुनाव में यहां से टीडीपी के किंजरपु अच्चेन्नायडू ने अपने निकटतम प्रतिद्व्ंदि दुव्वाड़ा श्रीनिवास को 8387 वोट से हराया था। अच्चेन्नायडू इससे पहले रद्द हुए (हरिश्चंद्रपुरम) से तीन बार विजयी रहे।

पूर्व केंद्रीय मंत्री किंजरपु एर्रान्नायडू के भाई अच्चन्नायडू चौथी बार यहां से जीते हैं। दुव्वाड़ा श्रीनिवास इससे पहले प्रजा राज्यम पार्टी की टिकट पर चुनाव लड़ा था और 2014 के चुनाव में उन्होंने वाईएसआर कांग्रेस पार्टी से चुनाव लड़ा था और उनकी हार हुई थी। के. अच्चेन्नायडू को जहां 81167 वोट मिले, वहीं दुव्वाड़ा श्रीनिवास को 72780 वोट मिले।

सामाजिक ताना-बाना

अच्चेन्नायडू कोप्पुला वेलम समुदाय से ताल्लुक रखते हैं। इस सीट से 14 बार बीसी नेता चुने गए, जबकि एक बार कम्मा समुदाय के नेता विधायक निर्वाचित हुए। टेक्कली विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के लि अब तक 16 बार हुए चनाव में कांग्रेस-2, कांग्रेस (आई)-3 और टीडीपी-7 बार जीत चुकी है। स्वतंत्र पार्टी ने दो बार, जनता पार्टी एक और निर्दलीय उम्मीदवार की एक बार यहां से जीत हुई है।

आंध्र प्रदेश की टेक्कली विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र विधायक के. अच्चेन्नायडू 
आंध्र प्रदेश की टेक्कली विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र विधायक के. अच्चेन्नायडू 

टेक्कली निर्वाचन क्षेत्र का इतिहास

  • 1952 और 1955 में विधानसभा अध्यक्ष रहे स्पीकर रोक्कम लक्ष्मी नरसिम्हा दौरा यहां से लगातार दो बार विजयी रहे।
  • 1989 में टीडीपी की जी. नागावली ने कांग्रेस के एस. लोकनाथम को हराया
  • 1994 में टीडीपी के एनटी रामाराव ने कांग्रेस के वी. बाबू राव को हराया
  • 1995 में उपचुनाव में टीडीपी के एच. अय्यपा दोरा ने कांग्रेस के पी. विश्वेश्वर राव को हराया
  • 1999 में टीडीपी से के. रेवतीपति ने कांग्रेस के एच. अय्यप्पा दोरा को हराया
  • 2004 में कांग्रेस के एच. अय्यप्पा दोरा ने टीडीपी के एल.एल. नायडू को हराया
  • 2009 में कांग्रेस से के. रेवतीपति ने टीडीपी के के. अच्चेन्नायडू को हराया
  • 2009 में उपचुनाव में कांग्रेस की के. भारती ने टीडीपी के के. अच्चेन्नायडु को हराया
  • 2014 के चुनाव में टीडीपी के के. अच्चेन्नायडू ने वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के दुव्वाड़ा श्रीनिवास को हराया