हैदराबाद: आंध्र प्रदेश में सत्तारूढ दल TDP के खेमे में दिनों-दिन असंतोष बढ़ता जा रहा है। पिछले कुछ दिनों से तिरुपति में TDP नेता नाराज चल रहे हैं। विधायक मन्नुरु सुगुणम्मा को टिकट देने के खिलाफ ये नेता आवाज बुलंद कर रहे हैं।

उनसे नाराज चल रहे तुडा चेयरमैन नरसिम्हा यादव के साथ 50 डिवीजन के नेताओँ ने बैठक आयोजित की। उन्होंने आरोप लगाया कि सुगुणम्मा के तानाशाही रवैये की वजह से पार्टी को नुकसान हो रहा है। उन्होंने साफ कर दिया है कि अगर अगले चुनाव में सुगुणम्मा को फिर से टिकट दिया जाता है,तो वे उनके खिलाफ प्रचार करेंगे।

तिरुपति में टीडीपी दो गुटों में बंट गई हैं और यह मसला दिनों-दिन तूल पकड़ता जा रहा है। इसका निश्चित तौर पर पार्टी प्रभावित होगी। इससे अगले चुनाव में यहां से पार्टी किसे टिकट देगी, इसको लेकर पार्टी कैडर में एक तरह की असमंजस की स्थिति बनी हुई है।

इसे भी पढ़ें:

मोदी या राहुल में किसी का विरोध नहीं, SCS देने वाले के साथ रहेगी YSRCP : जगन मोहन रेड्डी

आंध्र प्रदेश में चुनाव को लेकर ओवैसी का बड़ा बयान, कहा- वाईएस जगन का देंगे साथ

आप को बता दें कि चित्तूर जिले के कई TDP नेता YSR कांग्रेस पार्टी में शामिल हुये। TDP शहर अध्यक्ष के साथ छह कॉरपोरेटर YSR कांग्रेस पार्टी में शामिल होने तिरुपति TDP खेमे में हलचल पैदा हो गई है।