अमरावती: मंत्री अच्चेनायडू और भाजपा के विधायक विष्णु कुमार राजू के बीच विधायकों के इस्तीफे मंजूर करने के निर्णय को लेकर बहस छिड़ी। आंध्र प्रदेश विधानसभा के स्पीकर कोडेला शिवप्रसाद राव ने तीन विधायकों के इस्तीफे मंजूर करने का निर्णय लिया।

इस निर्णय पर TDP के मंत्री और BJP के विधायक के बीच विवाद हुआ। BJP के विधायक ने मंत्री अच्चेनायडू से कहा कि BJP के विधायक आकुला सत्यनारायण ने इस्तीफा क्यों दिया, इसका स्पष्टीकरण दें। साथ ही TDP के विधायक मेडा मल्लिकार्जुन ने अपने पद से इस्तीफा क्यों दिया, इसका भी स्पष्टीकरण दें। उन्होंने सवाल किया कि दलबदलु 23 विधायकों को विधानसभा से बाहर का रास्ता क्यों नहीं दिखाया गया।

इसे भी पढ़ें:

टीडीपी के विधायक रावेला का आरोप : दलित जनप्रतिनिधियों को टीडीपी में आत्मसम्मान नहीं

विष्णु कुमार राजू ने कहा कि केंद्र ने आंध्र प्रदेश के विकास के लिए मंजूर की है। मंत्री यनमला रामकृष्णुडु ने केंद्र ने कितनी राशि मंजूर की, इसका ब्यौरा क्यों नहीं दिया। उन्होंने आगे कहा कि YS जगन मोहन रेड्डी ने आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग बार-बार दोहराई है। TDP अपना पैंतरा बदलते हुए अब विशेष दर्जे की मांग को लेकर लोगों को गुमराह कर रही है। उन्होंने कहा कि चंद्रबाबू ने BJP के साथ गठबंधन तोड़ कर पार्टी के साथ विश्वासघात किया है।