न्यू दिल्ली: YSR कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने कहा कि अमरावती घोटाला रफेल से भी बड़ा घोटाला है। आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने परियोजनाओं के निर्माण कार्य में बड़े पैमाने पर धांधलियां बरती हैं। उनके समर्थक भी अन्य धांधलियों में शामिल हैं।

YSRCP के वरिष्ठ नेता उम्मा रेड्डी वेंकटेश्वरुलू ने आरोप लगाया कि पोलावरम परियोजना के निर्माण कार्य में धांधलियों को लेकर काग (CAG) ने रपट दी है। इस रपट धांधलियों को उजागर किया गया है। उन्होंने कहा कि आंध्र प्रदेश की राजधानी अमरावती में रफेल से भी बड़ा घोटाला हुआ है।

राज्यसभा सदस्य वेमी रेड्डी प्रभाकर ने कहा कि चंद्रबाबू ने चुनाव में 600 आश्वासन दिये, लेकिन अब तक किसी एक आश्वासन को पूरा नहीं किया है।

इसे भी पढ़ें:

धांधलियों के मामले में गिनीज बुक में दर्ज होना चाहिए चंद्रबाबू का नाम: विजय साई रेड्डी

YSR कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग की करते हुए दिल्ली में संसद भवन के निकट गांधीजी की प्रतिमा के पास प्रदर्शन किया। YSRCP के सांसद विजय साई रेड्डी, पूर्व सांसद मेकापाटी राजमोहन रेड्डी और वरिष्ठ नेता ने दिल्ली में 'चंद्रबाबू एम्परर ऑफ करप्शन' (भ्रष्टाचार की दुनिया के सरताज) पुस्तक हाथ में धरे प्रदर्शन किया।

मेकापाटी ने आरोप लगाया कि चंद्रबाबू ने पोलावरम परियोजना के निर्माण कार्य में 6 लाख करोड़ रुपयों से भी अधिकर घोटाला किया है। राज्यसभा सदस्य विजय साई रेड्डी ने आरोप लगाया कि धांधलियों पर पर्दा डालने के लिए चंद्रबाबू दिल्ली का दौरा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि आंध्र प्रदेश में प्रति व्यक्ति पर ऋण का भार बढ़ता जा रहा है।