हैदराबाद: YSR कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता आनम रामनारायण रेड्डी ने सवाल किया कि आगामी लोकसभा में तेदेपा को 25 सांसदों की सीटें मिलने पर आंध्र प्रदेश को विशेष दर्जा दिलवाने की बात करने वाले चंद्रबाबू नायडू वर्तमान में 20 सीटें होने पर क्या हासिल किया है? उन्होंने कहा कि बीते साढ़े चार वर्ष के दौरान केंद्र के साथ गठबंधन बनाये रखने वाले चंद्रबाबू ने प्रदेश विभाजन के आश्वासनों को पूरा नहीं कर सके। अब 25 सांसदों की सीटें हासिल करने पर विशेष दर्जा की बात कहना हास्यास्पद है। उन्होंने फिर से सवाल किया कि कड़पा में इस्पात कारखाने की स्थापना करने की बात कहने वाले चंद्रबाबू इसके निर्माण में विलंब क्यों हो रहा है?

रामनारायण रेड्डी ने कहा कि कड़पा इस्पात कारखाने के नाम पर फिर एक बार चंद्रबाबू रायलसीमा क्षेत्र के लोगों के साथ धोखाधड़ी का प्रयास कर रहे हैं। प्रदेश विभाजन कानून के तहत केंद्र ने इस्पात कारखाने की स्थापना की बात कही थी, लेकिन चंद्रबाबू ने डींग हांकते हुए इससे इनकार किया। यह सब उन्होंने रियल इस्टेट व्यापार के लालच में किया।

इसे भी पढ़ें:

YSRCP में शामिल हुए आनम, YS जगन ने अंगवस्त्र पहनाकर किया जोरदार स्वागत

आनम रामनारायण रेड्डी ने आगे कहा कि तिरुपति को सिलिकॉन सिटी में तब्दील करने का सपना चंद्रबाबू को भूलना चाहिए। उनके इस सपने से हिंदुओं की मनोभावनाओं को ठेस पहुंचेगी। उन्होंने कहा कि तेलंगाना में रेवंत रेड्डी और आंध्र प्रदेश में किरण कुमार चंद्रबाबू के लिए कोवर्ट बन गए हैं। चंद्रबाबू इन कोवर्टों का उपयोग राहुल गांधी को राजनीति के अखाड़े में कमजोर बनाने के लिए करेंगे।