विजयवाड़ा: YSR कांग्रेस पार्टी के विधायक आल्ला रामकृष्णा रेड्डी मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू पर बरस पड़े। प्रतिपक्ष के साथ चर्चा किये बिना भूमि अधिग्रहण-2018 कानून अमल में लाया। इस बात को लेकर उन्होंने आक्रोश व्यक्त किया।

भूमि अधिग्रहण-2018 कानून किसान, बटाईदार किसान और खेतिहरों के विरोध में बना। उन्होंने आरोप लगाया है कि अपने निजी स्वार्थ के चलते चंद्रबाबू ने लैंड पुलिंग कानून बनाया। उन्होंने मांग की है कि किसानों का जीवनयापन प्रभावित करनेवाला शासनादेश 562 स्थगित कर दिया जाए।

इसे भी पढ़ें:

अमरावती भूमि अधिग्रहण मामला : SC ने दिया पहले हाई कोर्ट का फैसला सुनने का निर्देश

रामकृष्णा रेड्डी ने आरोप लगाया है कि चंद्रबाबू ने हमेशा की तरह इस बार भी किसानों के साथ धोखाधड़ी की है। किसानों के कल्याण और विकास के खिलाफ उन्होंने कानून बनाया। उन्होंने आरोप लगाया है कि पार्क हयात होटल में समय बीताने वाले चंद्रबाबू और लोकेश को किसानों की मुसीबतों और समस्याओं की क्या जानकारी हो सकती हैं। चंद्रबाबू जनधन की लूटखसोट कर स्वार्थ की राजनीति को बढ़ावा दे रहे हैं।