चेन्नई : बंगाल की खाड़ी के दक्षिण पश्चिम में समुद्री तूफान 'गज' के गुरुवार शाम या रात तक तमिलनाडु तट को पार करने की संभावना है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के मुताबिक, हवा की रफ्तार लगभग 80 से 90 किलोमीटर प्रतिघंटा रहेगी।

आईएमडी ने कहा कि तूफान 14 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से आगे बढ़ा और यह गुरुवार सुबह 5.30 बजे तक नागापट्टिनम के पूर्व-पूर्वोत्तर में केंद्रित रहा। गज पश्चिम-दक्षिणपश्चिम की ओर बढ़ सकता है और पंबन और कड्डालूर को पार कर सकता है।

आईएमडी के मुताबिक, तमिलनाडु-दक्षिण आंध्र प्रदेश और पुड्डुचेरी तटों पर समुद्र की स्थिति गुरुवार दोपहर तक खराब से बहुत खराब रहेगी।

अगले 24 घंटों यानी शुक्रवार तक तमिलनाडु, पुड्डुचेरी और उससे सटे दक्षिणी आंध्र प्रदेश में मछली पकड़ने पर पूर्ण रोक लगाने की सलाह दी गई है।

ये भी पढ़ें : चक्रवात गाजा 15 नवंबर को तमिलनाडु से गुजरेगा, दक्षिण तटीय आंध्र में चलेंगी तेज हवाएं

तमिलनाडु के तंजावुर, तिरुवरुर, नागापट्टिनम, रामानाथपुरम और पुडुकोट्टई जिलों में और पुड्डुचेरी के करइकल में स्कूलों और कॉलेजों को बंद कर दिया गया है।

एआईएडीएमके सरकार के मुताबिक, दूरसंचार कंपनियों ने आश्वासन दिया है कि उनके पास तूफान प्रभावित क्षेत्रों में सिर्फ पांच दिनों तक और उनके मुख्यालयों में 15 दिनों तक का ही तेल का भंडारण हैं।

मोबाइल टेलीफोन कंपनियों ने भी सरकार को आश्वासन दिया है कि वे अपने मोबाइल टेलीकॉम टावर्स को पहियों पर रखकर नागापट्टिनम से कड्डालूर ले जाएंगे।