सैन फ्रांसिस्को : सोशल मीडिया वेबसाइट ट्विटर ने मई और जून में सात करोड़ से अधिक फेक अकाउंट बंद कर दिए हैं। समाचार एजेंसी के मुताबिक, फेक अकाउंट के जरिए झूठी और सनसनी खबरें फैलाने की वजह से यह कार्रवाई की गई है।

ट्विटर से जुड़े सूत्रों ने वाशिंगटन पोस्ट को बताया कि अक्टूबर में बंद किए गए अकाउंट की तुलना में दोगुने से अधिक है। अकाउंट में 10 लाख फर्जी अकाउंट बंद किए गए थे।

बता दें कि ट्विटर ऐसा फोरम है जहां दुनियाभर के कद्दावर नेता फोरम पर अपनी राय जाहिर करते हैँ। राजनीति, फिल्म और खेल हस्तियां इनसे जुड़ी हुई हैं।

यह भी पढ़ें :

ट्विटर के सह-संस्थापक ने लगाया दिल्ली के इस स्टार्ट-अप में पैसा

ट्विटर पासवर्ड बदल लें तत्काल, 33 करोड़ यूजर्स का डाटा लीक होने का शक

कुछ दिन पहले ही ट्विटर ने खुद ही स्वीकार किया था कि उसके डाटा स्टोरेज में बग है। जिसे ठीक कर लिया गया है। एहतियातन लोग अपना पासवर्ड बदल लें। डाटा लीक के डर से ट्विटर ने यह कदम उठाया था।

ट्विटर की ओर से जारी आधिकारिक बयान में बग होने के चलते हैशिंग प्रोसेस के दौरान इंटरनल कम्प्यूटर में पासवर्ड स्टोर हो रहा था। जिसके लिए ट्विटर ने माफी मांगी है।