बेरुत : सीरिया के होम्स प्रांत में जिहादियों के एक हमले के दौरान इस्लामिक स्टेट सरगना अबू बकर अल-बगदादी का बेटा हुदायफाह अल-बद्री मारा गया। आईएस की प्रोपैगैंडा एजेंसी अमाक ने मंगलवार को एक बयान में कहा, "होम्स में थर्मल पावर स्टेशन पर नुसायरियाह और रूस के खिलाफ अभियान में अल-बद्री मारा गया।''

अमाक ने इसके साथ एक युवक की तस्वीर जारी की है जिसके हाथ में राइफल है। आईएस राष्ट्रपति बशर अल-असद के अलावैत धार्मिक अल्पसंख्यक पंथ के लिए नुसायरियाह शब्द का इस्तेमाल करता है। आईएस ने 2014 में ईराक के बड़े हिस्से पर कब्जे के बाद सीरिया और ईराक में खुद को खलीफा घोषित किया था।

यह भी पढ़ें :

आईएसआईएस प्रमुख बगदादी के अंत की पुष्टि नहीं

धार्मिक जेहाद की खुली पोल: रमजान में ISIS ने इराक की 800 साल पुरानी अल-नूरी मस्जिद को उड़ाया

बहरहाल, तब से लेकर अब तक सीरिया और इराकी बलों के आतंकवाद रोधी अभियान में जिहादियों को काफी हद तक खदेड़ा गया। पिछले साल इराकी सरकार ने आईएस पर जीत का एलान किया था, लेकिन सेना अब भी सीरियाई सीमा पर ज्यादातर मरुस्थलीय इलाकों को निशाना बनाकर अभियान चला रही है। इराक के एक खुफिया अधिकारी ने मई ने बताया था कि कई मौकों पर मृत घोषित किया गया आईएस नेता बगदादी अब भी जिंदा है और सीरिया में है।

बगदादी को "धरती पर सबसे वांछित व्यक्ति'' घोषित किया गया है और अमेरिका ने उसे पकड़ने पर दो करोड़ 50 लाख डॉलर का इनाम घोषित कर रखा है।