प्यूबेला (मेक्सिको) : मेक्सिको स्थित सबसे ऊंचे पर्वत सिटालेलटेपेट्ल ज्वालामुखी पर पहुंचने के प्रयास में एक अमेरिकी नागरिक की मौत हो गई जबकि एक अन्य को एयरलिफ्ट कर अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

यह हादसा मेक्सिको के सुप्त ज्वालामुखी के फिर से सक्रिय हो जाने के कारण हुआ। मेक्सिको के अधिकारियों ने शुरुआती तौर पर इन्हें अमेरिकी राजनयिक बताया है जबकि एक अमेरिकी सूत्र ने उन्हें दूतावास का कर्मचारी बताया है।

यह भी पढ़ें :

डोनाल्ड ट्रंप की बहू को मिला संदिग्ध लिफाफा, खोलते ही पहुंचीं हॉस्पिटल

पद्मश्री विजेता शीतल राणे ने साड़ी में स्काइ डाइव करके बयाना अनोखा रिकार्ड

दक्षिण अफ्रीका में राष्ट्रपति के खिलाफ सत्तारूढ़ पार्टी का विरोध मार्च

प्यूबेला राज्य के नागरिक बचाव प्राधिकरण के मुताबिक दोनों में से एक पर्वतारोही पहाड़ से गिर गया था जबकि दूसरे ने अमेरिकी दूतावास से मदद की मांग की थी। बचाव कार्य रविवार को शुरू हुआ था लेकिन तेज हवा ने हेलीकॉप्टरों के लिए काफी खतरा पैदा कर दिया था जिसके बाद बचाव कार्य को रोकना पड़ा।

मेक्सिको के अधिकारियों ने बताया कि एक हेलीकॉप्टर कल अंतत: नाथन केहिल के पास पहुंचा और फिर उसे मेक्सिको सिटी अस्पताल लाया गया। पिको डे ओरिबाजा कहलाने वाला, 5,610 मीटर उंचा यह पर्वत कई पेशेवर पर्वतारोहियों के लिए आकर्षण का केंद्र है।