इस्लामाबाद : अमेरिका की सख्ती के बाद आखिरकार पाकिस्तान ने आतंकी संगठनों पर कार्रवाई शुरू कर दी है। पाकिस्तान ने स्पष्ट किया है कि प्रतिबंधित संगठनों को धन देने वालों को दस साल तक की जेल हो सकती है। इसमें मुंबई आतंकवादी हमले के मुख्य साजिशकर्ता हाफिज सईद द्वारा संचालित तथाकथित चैरिटी भी शामिल है।

यह चेतावनी उर्दू में विज्ञापन के तहत दी गई है। यह विज्ञापन पाकिस्तान के सभी प्रमुख स्थानीय अखबारों में छपे हैं। विज्ञापन में सईद के जमात उद दावा, फलाह ए इंसानियत फाउंडेशन और मसूद अजहर के जैश ए मोहम्मद सहित 72 संगठनों के नाम बताए गए हैं।

बता दें कि हाल ही में अमरिका ने पाकिस्तान को दी जा रही 90 करोड़ अरब डॉलर की आर्थिक मदद पर रोक लगा दी है। साथ ही ट्रंप ने कहा कि पाकिस्तान ने हमारे नेताओं को मूर्ख समझा है। अब पाकिस्तान को अमेरिका की तरफ से कोई मदद नहीं मिलेगी। ट्रंप ने कहा कि जिन आतंकवादियों को हम अफगानिस्तान में तलाश रहे हैं, उन्हें पाकिस्तान ने अपने यहां सुरक्षित आश्रय दे रखा है।

यह भी पढ़ें :

ट्रंप के ट्वीट से पाकिस्तान परेशान, PM अब्बासी ने बुलाई सुरक्षा समिति की बैठक

अमेरिका ने रोकी पाकिस्तान को मिलने वाली सभी मदद, ट्रंप ने जमकर लगाई ‘लताड़’