न्यूयॉर्क : कारोबार के मकसद से अक्सर यात्रा पर जाने वाले लोगों में चिंता और अवसाद के खतरे बढ़ सकते हैं। एक नए अध्ययन के मुताबिक ऐसे लोगों को धूम्रपान करने की आदत पड़ सकती है, वे सुस्त रहते हैं और उन्हें नींद न आने की समस्या आ सकती है।

अनुसंधानकर्ताओं ने पाया कि शराब पीने वाले लोगों के अत्याधिक कारोबारी यात्रा करने से शराब पर उनकी निर्भरता बढ़ जाने संबंधी लक्षण देखे गए हैं। उन्होंने बताया कि कारोबारी यात्रा के दौरान घर से ज्यादा दिन दूर रहने के कारण खराब व्यवहार और मानसिक स्वास्थ्य पर पड़ने वाले विपरीत प्रभाव काफी बढ़ जाते हैं।

यह अध्ययन ऑक्यूपेशनल एंड इंवायरन्मेंटल मेडिसिन पत्रिका में प्रकाशित हुआ है। यह अपनी तरह का पहला अध्ययन है जिसमें कारोबारी यात्रा के चलते गैर-संक्रामक रोगों के खतरों के बारे में बताया गया है।