हैदराबाद: बिहार की मिट्टी से कोसों दूर बिहारी मूल के जनकवि नागार्जुन की जयंती के मौके पर बिहार एसोसिएशन के ‘साहित्य एवं शिक्षा वाक्पीठ’ की ओर से कार्यक्रम का आयोजन किया गया। हालांकि इस दौरान जनकवि बाबा को बिहारी बताने पर आपत्तियां भी दर्ज की गईं।