शनिवार को जम्मू कश्मीर के राजौरी स्थित केरी सेक्टर में शहीद हुए मेजर प्रफुल्ल अंबादास मोहारकर की शहादत से ठीक पहले का वीडियो जारी हुआ है। जिसमें अपने देश के प्रति उनकी प्रतिबद्धता जाहिर होती है। प्रफुल्ल अपने जवानों को आखिरी सांस तक लीड करते रहे। पाकिस्तान की फायरिंग में मेजर प्रफुल्ल बुरी तरह से जख्मी हुए थे। जिसके बाद उनकी शहादत हुई। अंतिम समय में साथी जवान उन्हें बार बार शांत रहने के लिए कह रहे थे। जबकि प्रफुल्ल बुरी तरह घायल होने के बावजूद कमांड देते रहे।