जगित्याल: तेलंगाना के जगित्याल और द्वंतपुर गांव के तीन लोग इराक के बगदाद के बसरा जेल में कई महीनों से बंद हैं। इनके नाम है जक्कीराजू, सत्तैया और लक्ष्मण। दरअसल विदेश भेजने के नाम पर दलाली करने वाले मुरली ने इन्हें अच्छी नौकरी का झांसा दिया था। इसके एवज में उसने हरेक से डेढ डेढ लाख रुपए वसूले..इसके बाद इन्हें फेक कंपनी का आफर लेटर दिखाया और टूरिस्ट वीजा पर इराक भेज दिया। वहां पहुंचने के बाद काफी हाथ पैर मारने पर इन्हें किसी अन्य कंपनी में 10 महीने तक काम मिला...लेकिन यहां भी इनके साथ ज्यादती की गई ..और महज तीन महीने का पगार दिया गया। थक हारकर जब ये भारत वापस आने की कोशिश कर रहे थे। तो इन्हें बगदाद हवाई अड्डे पर ही पकड़ लिया गया। फिलहाल इन्हें संदिग्ध मानकर बसेरा जेल में बंद कर दिया गया है। इनके परिजनों ने अब भारत सरकार से इन्हें छुड़ाने की गुहार लगाई है।