विजयवाड़ा: आंध्रप्रदेश दौरे के सिलसिले में गुरुवार को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने विजयवाड़ा में जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उनका मोदी के लिए गुणगान जारी रहा। शाह ने केंद्र की विकास योजनाओं की खुलकर तारीफ की। अमित शाह ने आंध्रप्रदेश को 1 लाख 75 हजार रुपए केंद्र की ओर से मिलने का दावा किया।

कुछ इसी तरह के आंकड़े हैदराबाद में भी अमित शाह ने लोगों को दिया था। जिसके बाद तेलंगाना के मुख्यमंत्री केसीआर ने बकायदा प्रेस कांफ्रेंस करके शाह के उन दावों को झुठलाया।

विजयवाड़ा में भी अमित शाह विपक्षी पार्टियों के खिलाफ आक्रामक दिखे। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने तीन सालों में जो कर दिखाया विपक्ष की सरकारें 70 सालों में भी नहीं कर सकीं।

अमित शाह के मंच पर मौजूद रहते ही कुछ संगठनों ने बैनर और नारेबाजी के जरिए सरकार का विरोध किया। यहां तक कि वेंकैया नायडू जब बोलने उठे तो उन्हें बकायदा तेदेपा से परहेज करने के लिए नारे लगाए गए।

अमित शाह ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि एनडीए सरकार द्वारा शुरू की गई 106 योजनाओं की सूची मेरे पास है। लगभग हर 15 दिनों में एक नई योजना को सरकार ने लागू किया है।


शाह के 1 लाख पचहत्तर हजार करोड़ आंध्रप्रदेश को मिलने के दावे पर लोग संदेह कर रहे हैं। लोगों को आशंका है कि कही ये दावा बिहार जैसा ही तो नहीं। जहां खुद नरेंद्र मोदी ने चुनावी भाषण के दौरान बिहार को सवा लाख करोड़ देने का वादा किया था। लेकिन मिला एक धेला भी नहीं।