हैदराबाद : तेलंगाना सरकार ने धार्मिक नफरत फैलाने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का फैसला लिया है। धार्मिक भावना जैसे संवेदशील मुद्दे पर नफरत फैलाने वालों के खिलाफ जिस सेक्शन तहत मामला दर्ज किये जाते थे, उसी तरह धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाले कार्यक्रम प्रसारित करने वाले टीवी चैनल के खिलाफ भी मामले दर्ज किये जाएंगे।

आपको बता दें कि हाल ही में फिल्मी आलोचक कत्ती महेश ने एक टीवी चैनल में भगवान श्रीराम के खिलाफ विवादास्पद बयान दिया था, इस बयान के विरोध में श्रीपीठम के पीठाधिपति परिपूर्णानंद स्वामी ने हैदराबाद से यादाद्री तक पदयात्रा करने की घोषणा की। इसके चलते तेंलंगाना में अचानक तनाव की स्थिति उत्पन्न हुई।

संबंधित खबरें :

BJP विधायकों की मांग, कत्ती महेश  का किया जाए आजीवन बहिष्कार

भगवान राम पर विवादित बयान देने वाले फिल्म आलोचक कत्ती महेश का बहिष्कार

इसी के चलते तेलंगाना सरकार ने कत्ती महेश को हैदराबाद से बहिष्कार कर दिया। साथ ही परिपूर्णानंद स्वामी नजरबंद कर दिया। बाद में स्वामी को भी छह माह के लिए नगर से बहिष्कार कर दिया।

संबंधित खबरें :

कत्ती महेश के बाद स्वामी परिपूर्णानंद का भी नगर से बहिष्कार

कत्ती महेश का दोनों तेलुगु राज्यों से करे बहिष्कार : बजरंग दल

इसी परिप्रेक्ष में तेलंगाना पुलिस ने तेलंगाना सरकार को बताया कि कुछ टीवी चैनल में धार्मिक भावनों को ठेस पहुंचाने वाले कार्यक्रम (चर्चा गोष्ठी) प्रसारित कर रही है। इसी के चलते नगर में तनाव में की स्थिति उत्पन्न हुई है।

संबंधित खबरें :

फिल्म डॉयरेक्टर ने भगवान राम को बताया धोखेबाज, बवाल के बाद मामला दर्ज

भगवान श्रीराम पर टिप्पणी करने वाले के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए : जाना रेड्डी

कत्ती महेश को नहीं, स्वामी परिपूर्णानंद को बहिष्कार किया जाना चाहिए : ओबुलेसु

पुलिस के सुझाव पर तेलंगाना सरकार ने विवादास्पद प्रसासित करने वाले चैनल के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने पुलिस को आदेश दिया है। इसी आदेश के चलते नगर पुलिस ने पुलिस आयुक्तालय में एक विभाग को स्थापित किया है। जो चैनल में प्रसारित होने वाले कार्यक्रमों पर कड़ी नजर रखेंगी।