हैदराबाद: तेलुगु राज्यों में गत पांच दिनों से लगातार बारिश हो रही है। पश्चिम बंगाल की खाड़ी में हवा का कम दबाव बनने से मौसम में बदलाव हुआ है। इसका प्रभाव दोनों तेलुगु राज्यों पर हो रहा है। कई क्षेत्रों में जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है।

तेलंगाना में लगातार हो रही बारिश से नदी, नाले और तालाब उफान पर है। नलगोंडा में मुसी जलाशय में बाढ़ के पानी का भराव हुआ है। जलाशय की क्षमता 645 फीट होने पर वर्तमान में 637 फीट जलसंचय हुआ है। निर्मल जिले के कड़ेम स्थित जलाशय में बाढ़ का जलस्तर बढ़ गया है। जलाशय की क्षमता 700 फीट होने पर वर्तमान में 698 फीट जलस्तर है। कड़ेम परियोजना के दो गेट खोले गए हैं। गेट से 23 क्यूसेक जल गोदावरी नदी में छोड़ा जा रहा है।

इसे भी पढ़ें:

राजधानी सहित तेलंगाना में भारी बारिश, नदी-नाले उफान पर

निजामाबाद के श्रीरामसागर परियोजना में साधारणत: जलभराव की क्षमता 1091 फीट होने पर वर्तमान में जलाशय में 1058 फीट जलस्तर है। जलाशय में 1200 क्यूसेक जल का इनफ्लो आया है। भारी बारिश से तालिपेरु परियोजना का जलाशय लबालब भरा हुआ है। वर्तमान में जलभराव की क्षमता 72.75 क्यूसेक जलस्तर है। परियोजना के दो गेट खोल दिए गए हैं। गेट से 1897 क्यूसेक जल नीचले क्षेत्रों में छोड़ा जा रहा है। कोमुरम भीम में कोमुरम भीम परियोजना, वट्टीवागु परियोजना में बाढ़ के पानी का संचय हुआ है। गुंडीवागु उफान पर होने से आसपास के ग्रामों में यातायात बाधित रहा।

लगातार हो रही बारिश से आसिफाबाद के डोरली, खैरीगुड़ा ओपन कास्ट कोयला उत्पादन में अड़चनें पैदा हो रही है। जैनुर मंडल के पट्नापुर में भारी बारिश से पट्नापुर वागु में एक चरवाह बह गया। वागु (छोटी नदी) के निकट उसकी तलाश की जा रही है।

उधर, आंध्र प्रदेश में पांच दिनों से हो रही बारिश से कई परियोजनाओं में बाढ़ के पानी का स्तर बढ़ गया है। धवलेश्वरम कॉटन ब्रिज (धवलेश्वरम बैरेज) के निकट गोदावरी नदी में जलस्तर 9.3 फीट हो गया है। यहां पर 3,04,845 क्यूसेक इनफ्लो हुआ है। बैरेज से 4 हजार क्यूसेक जल डेल्टा क्षेत्र में छोड़ा जा रहा है।

गत पांच दिनों से लगातार हो रही बारिश से जनजीवन प्रभावित हो गया है। विजयवाड़ा में लगातार हो रही बारिश से मछुआरों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। मैलावरम, रेड्डीगुड़ेम, बापुलापाडु, वत्सावाई, गन्नावरम, नंदीगाम क्षेत्रों में लगातार बारिश हो रही थी। भारी बारिश से पूर्वी गोदावरी जिले के मुक्तेश्वरम और कोटपल्ली के बीच गोदावरी नदी पर मिट्टी से बना पुल ढह गया है। अधिकारियों ने लोगों को सतर्क रहने के निर्देश दिए हैं।