हैदराबाद : तेलंगाना पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) महेंदर रेड्डी ने कहा कि फिल्मी आलोचक कत्ती महेश को हैदराबाद से निष्कासित (बहिष्कार) किया गया है। कत्ती महेश को छह माह के लिए हैदराबाद से निकाल दिया गया है।

डीजीपी ने सोमवार को मीडिया से आगे कहा कि पिछले चार सालों से प्रदेश में किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना को रोकने के लिए तेलंगाना पुलिस कड़ी मेहनत कर रही है। मगर कुछ लोगों के कारण हालत पर प्रश्न चिह्न लग गया है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए कत्ती महेश को हैदराबाद से बहिष्कार कर दिया गया है।

कत्ती महेश
कत्ती महेश

डीजीपी ने कहा, "कत्ती महेश ने टीवी चैनल और सोशल मीडिया में विवादास्पाद बयान देते आ रहे हैं। इसके चलते कुछ लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंची है। अभिव्यक्ति मौलिक अधिकार है। मगर समाज में किसी की भावन को ठेस न पहुंचना चाहिए। मुख्य रूप से तेलंगाना के हैदराबाद में इस प्रकार की घटना न घटे। इस बात को ध्यान में रखते हुए कत्ती महेश को हैदराबाद से बहिष्कार किया गया है। कत्ती को उनके चित्तूर जिले में भेज दिया जाएगा। यदि कत्ती महेश कानून का उल्लंघन करके हैदराबाद में प्रवेश करता है तो तीन साल की सजा हो सकती है। साथ ही तेलंगाना के सभी जिलों में कत्ती महेश के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया जाएगा। इसके बाद भी वह लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंचाने जैसे बयान देते है तो गिरफ्तार किया जाएगा।"

संबंधित खबरें :

फिल्म डॉयरेक्टर ने भगवान राम को बताया धोखेबाज, बवाल के बाद मामला दर्ज

भगवान श्रीराम पर टिप्पणी करने वाले के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए : जाना रेड्डी

महेंदर रेड्डी ने कहा, "भारत देश में कोई भी व्यक्ति कहीं पर जाकर रह सकता है। मगर कत्ती महेश की तरह अन्य लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाली घटनाओं को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। तेलंगाना में कानून व्यवस्था ठीक रहने के कारण यहां के लोग अपना-अपना काम करते हुए तेलंगाना के विकास में सहयोग दे रहे हैं। मगर कत्ती की अभिवक्ति के कारण प्रदेश में कानून व्यवस्था भंग होने का खतरा उत्पन्न हुआ है। इसीलिए कत्ती महेश के खिलाफ कार्रवाई करनी पड़ी है।"

डीजीपी ने कहा, "सोशल मीडिया, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया या अन्य माध्यामों में लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाले कार्यक्रम प्रसारित करने वाले मीडिया को भी नोटिस भेजा जाएगा। इसी क्रम में कत्ती महेश के बयान को प्रसारित करने वाले चैनल को कारण बताओ नोटिस भेजा गया है। चैनल की ओर से आने वाले जवाब के आधार पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। साथ ही सभी जिला पुलिस अधीक्षकों को आदेश दिया गया है कि इस प्रकार की घटनाओं को रोकने के लिए आवश्यक कदम उठाये।"

आपको बता दें कि कत्ती महेश ने एक टीवी चैनल में भगवान श्रीराम पर विवादास्पद विवादास्पद बयान दिया था। इसी के चलते कत्ती के खिलाफ अनेक जगहों पर हिंदू धर्म के भावनाओं को ठेस पहुंचाये जाने के मामले दर्ज किये गये है। इस संबंध में अधिक जानकारी की प्रतीक्षा है।