नाटिंघम : बायें हाथ के चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव के करियर की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी के बाद रोहित शर्मा के 18वें शतक की बदौलत भारत ने पहले एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में इंग्लैंड को आठ विकेट से रौंद दिया।

इंग्लैंड के 269 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ने रोहित की 114 गेंद में चार छक्कों और 15 चौकों से नाबाद 137 रन की पारी के अलावा कप्तान विराट कोहली (82 गेंद में 75 रन, सात चौके) के साथ उनकी दूसरे विकेट की 167 रन की साझेदारी की बदौलत 9.5 ओवर शेष रहते दो विकेट पर 269 रन बनाकर आसान जीत दर्ज की।

रोहित ने शिखर धवन (40) के साथ पहले विकेट के लिए 59 रन की साझेदारी भी की। इससे पूर्व पहली बार पांच या इससे अधिक विकेट चटकाने वाले कुलदीप (25 रन पर छह विकेट) इंग्लैंड की धरती पर छह विकेट हासिल करने वाले पहले स्पिनर बने, जिससे मेजबान टीम अच्छी शुरुआत के बावजूद 49.5 ओवर 268 रन पर सिमट गई।

उमेश यादव ने 70 रन देकर दो जबकि युजवेंद्र चहल ने 51 रन देकर एक विकेट चटकाया। कुलदीप भारत के आठवें गेंदबाज हैं, जिन्होंने एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच में छह विकेट चटकाए। इंग्लैंड के लिए जोस बटलर (53) और बेन स्टोक्स (50) ने अर्धशतक जड़ने के अलावा पांचवें विकेट के लिए 93 रन की साझेदारी भी की।

श्रृंखला का दूसरा मैच 14 जुलाई को लंदन के लार्ड्स में खेला जाएगा। लक्ष्य का पीछा करने उतरे भारत को धवन और रोहित की जोड़ी ने तेज शुरुआत दिलाई। धवन ने शुरू से ही आक्रामक रवैया अपनाया। उन्होंने डेविड विली और मार्क वुड के ओवरों में तीन-तीन चौके मारे। रोहित ने वुड पर छक्के के साथ सातवें ओवर में भारत का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया।

यह भी पढ़ें :

अपने प्रदर्शन से खुश कुलदीप ने कोहली, धौनी के बारे में कही ये बात

ब्रिस्टल T-20 : रोहित-पांड्या के दम के आगे ‘बेदम’ हुई इंग्लैंड, भारत ने 2-1 से जीती सीरीज

धवन हालांकि अगले ओवर में मोईन अली की गेंद पर बैकवर्ड प्वाइंट पर आदिल राशिद को कैच दे बैठे। उन्होंने 27 गेंद की पारी में आठ चौके मारे। कोहली ने वुड पर चौके से खाता खोला जबकि इसी ओवर में रोहित ने भी दो चौके मारे। भारत के रनों का सैकड़ा 15वें ओवर में पूरा हुआ। कोहली ने इस बीच लियाम प्लंकेट और स्टोक्स पर चौके जड़े।

रोहित ने स्टोक्स पर चौके के साथ 54 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। कोहली ने वुड पर चौके के साथ 55 गेंद में 50 रन के आंकड़े को छुआ। रोहित ने वुड के इस ओवर में दो चौके और मारे। रोहित ने मोईन की लगातार गेंदों पर छक्का और चौका मारा लेकिन 92 रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब प्लंकेट की गेंद पर प्वाइंट पर राय ने उनका मुश्किल कैच टपका दिया। रोहित ने आदिल राशिद पर छक्के के साथ 82 गेंद में शतक पूरा किया।

कोहली हालांकि इसके बाद राशिद की गेंद को आगे बढ़कर खेलने की कोशिश में चूक गए और बटलर ने उन्हें स्टंप कर दिया। भारत को इस समय 17 ओवर में जीत के लिए 43 रन की दरकार थी और रोहित ने लोकेश राहुल (नाबाद 09) के साथ मिलकर टीम को लक्ष्य तक पहुंचा दिया। इससे पहले कोहली ने टास जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया, लेकिन जेसन राय (38) और जानी बेयरस्टा (38) की सलामी जोड़ी ने पहले विकेट के लिए 10.2 ओवर में 73 रन जोड़कर इंग्लैंड को अच्छी शुरुआत दिलाई।

उमेश की मैच की पहली गेंद राय के बल्ले का किनारा लेकर स्लिप से चार रन के लिए चली गई। इसी ओवर की अंतिम गेंद में बेयरस्टा भाग्यशाली रहे जब उनके खिलाफ पगबाधा की विश्वसनीय अपील हुई लेकिन अंपायर ने उन्हें आउट नहीं दिया। बेयरस्टा ने पदार्पण कर रहे सिद्धार्थ कौल पर चौके से खाता खोला और फिर उमेश पर भी लगातार दो चौके मारे। उन्होंने कौल पर छक्के के साथ आठवें ओवर में टीम का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया।

इंग्लैंड की मजबूत होती साझेदारी के बीच कोहली ने गेंद कुलदीप को थमाई और उन्होंने कप्तान को निराश नहीं करते हुए दूसरी ही गेंद की राय को कवर में उमेश के हाथों कैच करा दिया। उन्होंने 35 गेंद की अपनी पारी में छह चौके मारे। कुलदीप ने अपने अगले ओवर की पहली गेंद पर जो रूट (03) को पगबाधा किया जबकि इसी ओवर में बेयरस्टा को भी पवेलियन भेजा।