नई दिल्ली : भारतीय महिला टी-20 क्रिकेट टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर की डिप्टी डीएसपी बनने की उम्मीदों को बड़ा झटका लगा है। हरमनप्रीत का पंजाब पुलिस में डीएसपी पद छीन लिया गया है। उनकी बीए की डिग्री फर्जी पाई गई है। अब उनसे डीएसपी रैंक छीन लिया गाय है और उनको कांस्टेबल बनाया जा रहा है। पंजाब पुलिस ने अर्जुन पुरस्कार विजेता हरमनप्रीत के बीए के सर्टिफिकेट पर जांच के बाद सवाल उठाए थे।

जानकारी के अनुसार पंजाब पुलिस ने हरमनप्रीत को पत्र लिखकर कहा है कि उनकी शिक्षा मात्र 12वीं तक ही है। ऐसे में उनको सिर्फ कांस्टेबल की नौकरी मिल सकती है। दूसरी ओर पंजाब पुलिस के सूत्रों का कहना है कि अभी इस बारे में कोई आधिकारिक निर्णय नहीं लिया गया है। पंजाब पुलिस ने अभी सरकार को यह लिखा है कि हरमनप्रीत ग्रेजुएट नहीं है और ऐसे में उनको डीएसपी के पद पर नहीं रखा जा सकता है।

इसे भी पढ़ें

महिला टी-20 चैलेंज : सुपरनोवास ने जीता टॉस, गेंदबाजी का फैसला

वहीं हरमनप्रीत ने इस बारे में कोई आधिकारिक सूचना नहीं मिलने की बात कही है। हरमनप्रीत कौर के ग्रेजुएशन के सर्टिफिकेट के मामले में पंजाब सरकार ने रेलवे से जानकारी मांगी थी। वहां से रिपोर्ट मिलने के बाद पंजाब सरकार ने कार्रवाई की है।

इसे भी पढ़ें

बल्ले पर CEAT के लोगो के साथ खेलेंगी हरमनप्रीत

वहीं हरमनप्रीत कौर के पिता हरमंदर सिंह का कहना है कि इस बारे में उनको जानकारी नहीं है। फोन पर इस बारे में पूछे जाने पर हरमंदर सिंह ने कहा कि इस बारे में हरमनप्रीत ही बता सकती है। परिवार को पंजाब सरकार की ओर से कोई जानकारी नहीं मिली है।