जकार्ता: गत चैम्पियन किदाम्बी श्रीकांत का अभियान 1,250,000 डालर इनामी राशि के इंडोनेशिया ओपन बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर सुपर 1000 टूर्नामेंट के शुरूआती दौर में मिली हार से समाप्त हो गया। ओलंपिक रजत पदकधारी पीवी सिंधू ने महिला एकल में रोमांचक जीत दर्ज कर प्री क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया।

दुनिया के पूर्व नंबर एक श्रीकांत को फार्म में चल रहे जापानी खिलाड़ी केंटो मोमोटा से दो हफ्तों में लगातार दूसरी हार का मुंह देखना पड़ा। इस भारतीय खिलाड़ी को शुरूआती मैच में 21-12 14-21 15-21 से हार मिली। यह मैच एक घंटे तक चला। मोमोटा ने पिछले हफ्ते मलेशिया ओपन में भी श्रीकांत का अभियान का समाप्त किया था। दुनिया के पूर्व नंबर दो मोमोटा के खिलाफ श्रीकांत की यह सातवीं हार है।

इसे भी पढ़ें :

बैडमिंटन : ओकुहारा से हारीं सिंधू, क्वार्टरफाइनल में पहुंचे श्रीकांत-प्रणय

अवैध सट्टेबाजी के कारण लगे एक साल के प्रतिबंध के बाद वापसी कर रहे हैं। सिंधू ने थाईलैंड की पोर्नपावी चोचुवोंग को 21-15 19-21 21-13 से हराकर भारतीय खेमे में खुशी फैला दी। अब उनका सामना जापान की अया ओहोरी से होगा। इससे पहले वैष्णवी रेड्डी जक्का को डेनमार्क को लिने होजमार्क कजार्सफेल्ट से 12-21 10-21 से पराजय मिली।

मनु अत्री और बी सुमित रेड्डी की पुरूष युगल जोड़ी ने चीन की लियू चेंग और झांग नान की जोड़ी को चुनौती पेश की। अंत में उन्होंने घुटने टेक दिये और वे 21-15 15-21 17-21 से हार गये। मिश्रित युगल में प्रणव जेरी चोपड़ा और एन सिक्की रेड्डी की भी चुनौती समाप्त हो गयी। उन्हें चीन की झेंग सिवेई और हुआंग याकियोंग की चौथी वरीय जोड़ी ने 21-12 21-14 से शिकस्त दी।