डबलिन : देश को दो विश्वकप दिलवाने वाले कप्तान। इसके बाद भी थोड़ा सा भी गुरुर नहीं। किसी भी स्थिति में अपना धर्म निभाना सिर्फ उन्हीं से संभव है। वही हैं महेंद्र सिंह धौनी। टीम इंडिया-आयरलैंड के बीच हुए दूसरे टी-20 मैच में धौनी का वाटर ब्याय का अवतर सभी को अचंभित कर दिया।

दौलत और शोहरत चाहे कितना भी कमाए, लेकिन अपनी सादगी बनाए रखना धौनी को देखकर सीखना चाहिए। दूसरे टी-20 मैच से धौनी को रेस्ट देने के बाद भी अतिरित्क खिलाड़ी के तौर पर अपने जूनियरों के किट बैग ढोहते हुए उन्हें पानी की बोतलें पहुंचाना क्रिकेट के प्रति उसकी कटिबद्धता को प्रतिबिंबित करता है। उसी लिए कहते हैं दटीज धौनी ...!