कजान : ब्राजील में 2014 में आयोजित फीफा विश्व कप के 20वें संस्करण का फाइनल खेलने वाली दोनों टीमें अब इस टूर्नामेंट के 21वें संस्करण से बाहर हो गई हैं। विजेता जर्मनी को ग्रुप स्तर से ही बेआबरू होकर निकलना पड़ा था और अब शनिवार को फ्रांस ने 4-3 के अंतर से हराते हुए उपविजेता अर्जेटीना को भी बाहर का रास्ता दिखा दिया।

फ्रांस की जीत में युवा फारवर्ड कीलियन एम्बाप्पे के दो गोलों का अहम योगदान है। कजान ऐरेना में खेले गए इस नॉकआउट मुकाबले में फ्रांस के लिए एम्बाप्पे के अलावा एंटोनी ग्रीजमैन ने पेनाल्टी पर गोल किया जबकि बेंजामिन पावर्ड ने भी एक गोल किया।

दूसरी ओर, दुनिया के बेहतरीन फुटबाल खिलाड़ियों में शुमार लियोनेल मेसी की अगुवाई में खेल रही अर्जेटीनी टीम के लिए एंजेल डी मारिया, गेब्रियल मकाडरे और सर्गियो अगुएरो ने गोल किए। साल 1998 में विश्व कप जीतने वाली फ्रांसीसी टीम ने ठोस शुरुआत की और मिडफील्ड में मेसी समेत अर्जेटीना के अन्य फारवर्ड खिलाड़ियों को जगह नहीं दी जिसका फायदा टीम को जल्द ही मिला।

मैच के नौवें मिनट में एम्बाप्पे को अर्जेटीना के बॉक्स के बाहर करीब 25 गज की दूरी पर जेवियर माशेरानो ने गिरा दिया और फ्रांस को मैच की पहली फ्री-किक मिली। स्टार फारवर्ड एंटोनी ग्रीजमैन ने शानदार फ्री-किक ली लेकिन वह गेंद को क्रॉसबार पर मार बैठे।

इसके दो मिनट बाद, एम्बाप्पे ने मिडफील्ड से गेंद के साथ शानदार दौड़ लगाई। अर्जेटीना के बॉक्स के भीतर एम्बाप्पे को मैनचेस्टर युनाइटेड से खेलने वाले डिफेंडर मार्कस रोहो ने गिरा दिया। इस पर फ्रांस को पेनाल्टी मिला, जिस पर 13वें मिनट में ग्रीजमैन ने गोल करके अपनी टीम को 1-0 की बढ़त दिला दी।

शुरुआती बढ़त बनाने के बावजूद फ्रांस के खिलाड़ियों ने मिडफील्ड में अपना दबदबा बनाए रखा। हालांकि , पहले हाफ के अंतिम क्षणों में अर्जेटीना के फारवर्ड खिलाड़ियों ने फ्रांस के बॉक्स के बाहर हलचल मचाई और 41वें मिनट में एंजेल डी मारिया ने करीब 25 गज की दूरी से दमदार गोल दागकर अपने टीम को बराबरी दिला दी।

पहले गोल से उत्साहित अर्जेटीना की टीम ने दूसरे हाफ की सकारात्मक शुरुआत की और बाएं छोर पर फ्री-किक अर्जित करने में कामयाब रही। अनुभवी मिडफील्डर एवर बानेगा ने 48वें मिनट में फ्री-किक पर बेहतरीन क्रॉस दिया और बॉक्स के भीतर गेंद मेसी को मिली। मेसी ने गोल की ओर शॉट मारा लेकिन गेंद गेब्रियल मकाडरे के पांव से लगकर गोल में चली गई।

मैच में अर्जेटीना के 2-1 से अप्रत्याशित बढ़त बनाने के नौ मिनट बाद फ्रांस के डिफेंडर बेंजामिन पावर्ड ने बॉक्स के बाहर से दमदार गोल करके अपनी टीम को बराबरी दिला दी।

बराबरी का गोल दागने के बाद फ्रांस ने दोबारा मैच पर अपनी पकड़ बना ली। 64वें मिनट में एम्बाप्पे ने बॉक्स के पास तेजी दिखाई और अर्जेटीना के डिफेंडरों को छकाते हुए अपनी टीम को 3-2 से आगे कर दिया।

मैच के 68वें मिनट में एम्बाप्पे ने एक बार फिर तेजी दिखाई और बॉक्स के दाईं छोर पर मिले पास को गोल में डालकर फ्रांस की बढ़त को 4-2 कर दिया।

अर्जेटीना ने दो गोलों से पिछड़ने के बावजूद मैच में वापसी करने की अपनी कोशिशें जारी रखी। इंजुरी टाइम (93वें मिनट) में मेसी ने दाएं छोर से बेहतरीन क्रॉस दिया जिस पर हेडर से गोल दागकर सर्गियो अगुएरो ने अर्जेटीना के वापसी की उम्मीदें जगाई लेकिन समय कम होने के कारण वे फ्रांस को अगले दौर में जाने से नहीं रोक पाए।

-आईएएनएस