समारा (रूस) : कोलंबिया ने गुरुवार को अपने अंतिम ग्रुप मैच में सेनेगल को 1-0 से हराकर फीफा विश्व कप के प्री-क्वार्टर फाइनल में जगह बना ली है।

ग्रुप-एच में कोलंबिया ने तीन मैचों में दो जीत दर्ज करते हुए कुल छह अंक अर्जित किए और अगले दौर में प्रवेश किया। दूसरी ओर, सेनेगल की किस्मत खराब रही। एक तरफ इसी ग्रुप से जापान को पोलैंड के हाथों हार के बावजूद अगले दौर का टिकट मिला वहीं सेनेगल को जापान के बराबर अंक होने के बावजूद घर वापसी करना होगा। जापान को फेयरप्ले अंकों के कारण आगे जाने का ईनाम मिला।

इस मैच से पहले सेनेगल और जापान के चार-चार अंक थे। ड्रॉ भी दोनों टीमों को अगले दौर में पहुंचा सकता था, लेकिन ऐसा हुआ नहीं और दोनों टीम के नसीब में हार रही। इसी कारण दोनों टीमों के अंकों में बदलाव नहीं हुआ जबकि गोल अंतर में भी दोनों टीमें बराबरी पर थी। ऐसे में फेयर प्ले अंकों का उपयोग किया गया जहां जापान ने बाजी मारते हुए सेनेगल को अगले दौर में जाने से रोक दिया।

यह भी पढ़ें : फीफा विश्व कप : आज प्री-क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने उतरेगी डेनमार्क

बहरहाल, समारा ऐरेना में सेनेगल और कोलम्बिया ने सधी हुई शुरुआत की और लंबे पास जरिए एक दूसरे के डिफेंस को भेदने का प्रयास किया। 12वें मिनट में कोलंबिया को विपक्षी टीम के बॉक्स के बाहर फ्री-किक मिली जिस पर जुआन क्विंतेरो ने बेहतरीन शॉट लिया लेकिन गोलकीपर खादिम नडियाये ने गेंद को गोल में जाने से बचा लिया।

सेनेगल ने भी कोलंबिया के आक्रमण को जवाब दिया। 17वें मिनट में सादियो माने को कोलंबियाई डिफेंडर ने बॉक्स में गिरा दिया लेकिन वीएआर की मदद लेने के बाद रेफरी ने सेनेगल को पेनाल्टी नहीं दी।

यह भी पढ़ें : FIFA World Cup : रोनाल्डो ने फिर दिखाया जलवा, पुर्तगाल की मोरक्को पर जीत

दोनों टीमों के बीच बराबरी की टक्कर जारी रही। 25वें मिनट में कोलंबिया को बॉक्स के बाहर फ्रीक्रिक मिली और इस बार भी क्विंतेरो ने शानदार क्रॉस दिया लेकिन स्टार स्ट्राइकर रादमेल फाल्काओ हेडर से गेंद को गोल में नहीं डाल पाए। पहले हाफ के अंतिम क्षणों में सेनेगल का पलड़ा भारी रहा। हालांकि, वे बढ़त बनाने में कामयाब नहीं हो पाए।

कोलंबिया ने दूसरे हाफ में बेहतर खेल दिखाया और गेंद पर अधिक समय तक नियंत्रण बनाने में विश्वास दिखाया जिसका लाभ उन्हें 74वें मिनट में मिला। क्विंतेरो ने कॉर्नर पर शानदार क्रॉस दिया जिस पर हेडर से गोल दागकर स्पेनिश क्लब एफसी बार्सिलोना से खेलने वाले डिफेंडर यैरी मीना ने अपनी टीम को 1-0 से आगे कर दिया।

यह भी पढ़ें: मेस्सी ने माना, करियर का सबसे तनावपूर्ण था नाईजीरिया के साथ मैच

इसके तीन मिनट बाद सेनेगल को बराबरी का मौका मिला। सेनेगल को कॉर्नर मिला, लेकिन माने के हेडर पर शानदार बचाव करते हुए ओस्पिना ने कोलंबिया की बढ़त को बना रखा।

सेनेगल के फारवर्ड इस्माइला सार को बॉक्स के भीतर 80वें मिनट में बराबरी का गोल दागने का मौका मिला। माने ने बॉक्स में सार को पास दिया लेकिन वह गेंद को गोलपोस्ट के ऊपर मार बैठे और सेनेगल के अगले दौर में पहुंचने की उम्मीदें समाप्त हो गईं।