नई दिल्ली : स्टार स्ट्राइकर रानी रामपाल अगले महीने गोल्ड कोस्ट में होने वाले राष्ट्रमंडल खेलों में भारत की 18 सदस्यीय महिला हाकी टीम की अगुवाई करेंगी जबकि गोलकीपर सविता उनके साथ उप कप्तान की भूमिका निभाएंगी। भारतीय टीम को चार अप्रैल से शुरू होने वाले इन खेलों में मलेशिया, वेल्स, इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका के साथ पूल ए में रखा गया है।

भारत अपने अभियान की शुरूआत पांच अप्रैल को वेल्स के खिलाफ करेगा। सत्ताईस वर्षीय सविता ने टीम में वापसी की है। उन्हें हाल में दक्षिण कोरियाई दौरे में विश्राम दिया गया था। उनके साथ रजनी इतिमारपु दूसरी गोलकीपर होंगी। भारतीय टीम अभी विश्व में दसवें नंबर पर है तथा उसे विश्व में नंबर दो इंग्लैंड, नंबर चार न्यूजीलैंड और नंबर पांच मेजबान आस्ट्रेलिया से कड़ी चुनौती मिलने की संभावना है।

यह भी पढ़ें :

अजलन शाह हॉकी टूर्नामेंट : भारत ने गंवाए कई मौके, इंग्लैंड के साथ मैच ड्रा

भारतीय महिला हॉकी टीम के लिए नहीं अच्छा रहा वुमेंस-डे, कोरिया दौरे पर करना पड़ा हार का सामना

हॉकी : मनप्रीत को राष्ट्रमंडल खेलों के लिए कमान, सरदार टीम से बाहर

मुख्य कोच हरेंद्र सिंह को हालांकि विश्वास है कि दक्षिण कोरिया के खिलाफ पांच मैचों की श्रृंखला जीतने के बाद उत्साह से भरी भारतीय टीम उलटफेर करने में सक्षम है। उन्होंने कहा, ‘‘हम लंबे अर्से से इन्हीं खिलाड़ियों के साथ खेल रहे हैं और उनके बीच अच्छी समझबूझ और तालमेल है जिसका सबूत 2017 एशिया कप की जीत है। ''

हरेंद्र ने कहा, ‘‘टीम ने दक्षिण कोरिया में भी अच्छा प्रदर्शन किया तथा खुद से अधिक रैंकिंग की टीम को हराया। हम कुछ उलटफेर कर पर ध्यान देंगे और हमारा लक्ष्य पोडियम पर पहुंचना है। राष्ट्रमंडल खेलों से पहले हमारा मनोबल ऊंचा है।'' कोच ने गोलकीपर सविता की वापसी का स्वागत किया जो अभी गोलकीपिंग कोर्स के लिये ओमान में है। भारतीय महिला हाकी टीम ने इंग्लैंड में 2002 राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीता था जबकि आस्ट्रेलिया में 2006 राष्ट्रमंडल खेलों में उसे रजत पदक मिला था।

यह भी पढ़ें :

महिला हॉकी : न्यूजीलैंड ने दूसरे मैच में भारत को 8-2 से हराया

अजलन शाह हॉकी टूर्नामेंट : भारत ने गंवाए कई मौके, इंग्लैंड के साथ मैच ड्रा

भारतीय महिला हॉकी टीम के लिए नहीं अच्छा रहा वुमेंस-डे, कोरिया दौरे पर करना पड़ा हार का सामना

इसके बाद हालांकि 2010 और 2014 में टीम पांचवां स्थान ही हासिल कर पायी थी। कप्तान रानी रामपाल को विश्वास है कि टीम आस्ट्रेलिया में 2002 और 2006 के प्रदर्शन को दोहराने में सफल रहेगी। उन्होंने कहा, ‘‘हम दक्षिण कोरिया में श्रृंखला जीतकर अच्छी फार्म के साथ टूर्नामेंट में जा रहे हैं। हम पिछले दो अवसरों पर पांचवें स्थान पर रहे थे लेकिन इस बार हमारी निगाह पोडियम पर पहुंचने पर टिकी है। ''

रानी ने कहा, ‘‘हमारे पास अनुभव और युवा का अच्छा मिश्रण है। टीम की जीत की भूख खेलों में अच्छा प्रदर्शन करने के लिये मुख्य कारक होगा। ''

टीम इस प्रकार है :

गोलकीपर: सविता (उप कप्तान), रजनी इतिमारपु।

रक्षापंक्ति : दीपिका, सुनीता लाकड़ा, दीप ग्रेस एक्का, गुरजीत कौर, सुशीला चानू पुखरामबाम।

मध्यपंक्ति : मोनिका, नमिता टोप्पो, निकी प्रधान, नेहा गोयल, लिलिमा मिंज।

अग्रिम पंक्ति : रानी (कप्तान), वंदना कटारिया, लालरेमसियामी, नवजोत कौर, नवनीत कौर, पूनम रानी।