हेमिल्टन : भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने 4-नेशन्स इन्विटेशनल टूर्नामेंट के दूसरे चरण में अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखते हुए गुरुवार को बेल्जियम के खिलाफ जीत हासिल कर अपना बदला पूरा किया।

भारत को इस टूर्नामेंट के पहले चरण के फाइनल में बेल्जियम से हार का सामना करना पड़ा था, लेकिन अब भारतीय टीम ने गुरुवार को रोमांचक मैच में बेल्जियम को 5-4 से हराया।

भारतीय टीम ने मैच की अच्छी शुरुआत की। चौथे मिनट में रुपिंदर पाल सिंह ने पेनाल्टी कॉर्नर पर गोल कर टीम को 1-0 की बढ़त दी। इस बढ़त को टीम ने पहले क्वार्टर की समाप्ति तक बनाए रखा। इसके बाद, जॉन-जॉन डोहमेन ने गोल कर बेल्जियम का स्कोर 1-1 से बराबर कर दिया। इस बराबरी के साथ ही दूसरा क्वार्टर समाप्त हो गया।

ये भी पढ़ें :

ऑस्ट्रेलियन ओपन : बोपन्ना-बाबोस की जोड़ी क्वार्टर फाइनल में पहुंची

आस्ट्रेलियन ओपन : सिमोना हालेप पहुंची फाइनल में , कैरोलिना से होगा मुकाबला

दोनों टीमों के बीच तीसरा और चौथे क्वार्टर का मैच रोमांचक रहा। फेलिक्स डेनायार ने 37वें मिनट में बेल्जियम के लिए गोल कर उसे 2-1 से बढ़त दी, लेकिन यह बढ़त ज्यादा देर तक कायम नहीं रही। 42वें मिनट में रुपिंदर ने टीम के लिए दूसरा गोल कर इस स्कोर को 2-2 से बराबर कर दिया।

एलेक्जेंडर हैंड्रिक्स ने तीसरे क्वार्टर की समाप्ति के अंतिम मिनट में गोल कर बेल्जियम को 3-2 की बढ़त दे दी। भारतीय टीम ने चौथे क्वार्टर में अच्छी वापसी की। हरमनप्रीत सिंह ने 46वें मिनट में ही गोल कर एक बार फिर स्कोर 3-3 से बराबर कर लिया। इसके बाद, ललित उपाध्याय ने 53वें मिनट में एक और गोल कर भारतीय टीम का स्कोर 4-3 किया।

टॉम बून ने 56वें मिनट में बेल्जियम के लिए गोल किया और एक बार फिर टीम को बराबरी पर ला खड़ा किया। यहां युवा खिलाड़ी दिलप्रीत सिंह ने मैच की समाप्ति के लिए बचे अंतिम दो मिनट में शानदार गोल करते हुए भारतीय टीम को बेल्जियम के खिलाफ 5-4 से जीत हासिल की।