Fri May 25, 2018 Telugu English E-Paper Education

मुख्य समाचार

170वें दिन की पदयात्रा डायरी, विफल मुख्यमंत्री चंद्रबाबू का क्या नाम रखा जाएं?

170वें दिन की पदयात्रा डायरी, विफल मुख्यमंत्री चंद्रबाबू का क्या नाम रखा जाएं?

गहरे नींद में सोये हुए व्यक्ति को स्पर्श करके उठाया जा सकता है। मगर गहरे नींद में सोये जैसा एक्टिंग करने वाले व्यक्ति के साथ हम क्या कर सकते है? चंद्रबाबू नायुडू जी, आपकी जन्मभूमि कमेटियां, आपके नेता लोगों के साथ अन्याय करते जा रहे हैं। लोगों के लूट रहे हैं। मगर आप मुंह तक नहीं खोल रहे हैं। ऐसे विफल मुख्यमंत्री का क्या नाम रखा जाएं। असमर्थ? गैरजिम्मेदारी?

किसने क्या कहा?

आरोग्यश्री योजना का दायरा बढ़ाने में बाबू विफल 

‘चुनाव के दौरान आरोग्यश्री योजना का दायरा बढ़ाने और योजना को अच्छी तरह से लागू करने का आश्वासन दिया था। परंतु सत्ता में आने के बाद उस योजना का नाम बदलने के अतिरिक्त कुछ नहीं किया है। आरोग्यश्री योजना को निष्क्रिय नहीं बनाया है। सरकार की नजर में गरीब के प्राण की कोई कीमत नहीं है।’ 

आरोग्यश्री योजना का दायरा बढ़ाने में बाबू विफल 
आरोग्यश्री योजना का दायरा बढ़ाने में बाबू विफल 
0 0
  ...तो इसलिए बाबू ने विशेष दर्जे से किया इनकार 

‘आपने यही सोचा होगा कि विशेष दर्जे से मिलने वाला लाभ सीधे लाभान्वितों को पहुंचेगा और आपके हाथ कुछ नहीं लगेगा। अगर पैकेज रहेगा तो पूरा फंड आपके हाथों में आ जाएगा और लूटने का मौका मिलेगा। क्या राज्य के सभी 25 सांसदों के एक साथ इस्तीफा देकर आमरण अनशन पर बैठ जाने से यह मसला पूरे देश में चर्चा का मुद्दा नहीं बनेगा?’ 

  ...तो इसलिए बाबू ने विशेष दर्जे से किया इनकार 
  ...तो इसलिए बाबू ने विशेष दर्जे से किया इनकार 
0 0
फीस रिअंबर्समेंट के भुगतान में सरकार विफल 

‘गरीब बच्चों को अपनी पढ़ाई जारी रखने के लिये कर्ज लेने की स्थिति पैदा हो गई है। आधी-अधूरी फीस रिअंबर्समेंट भी समय पर नहीं मिलने के कारण विद्यार्थियों व उनके माता-पिता पर दबाव बढ़ रहा है। दबाव को नहीं झेल पाने और पढ़ाई बीच में रुकने के डर से विद्यार्थी मानसिक तनाव का शिकार होकर आत्महत्या कर रहे हैं।’

फीस रिअंबर्समेंट के भुगतान में सरकार विफल 
फीस रिअंबर्समेंट के भुगतान में सरकार विफल 
0 0
विशेष दर्जे को लेकर चंद्रबाबू पर राज्य को लोगों को नहीं है भरोसा 

‘पिछले चार सालों से आपने विशेष दर्जे की मांग को दबाने का हर संभव प्रयास किया है, लेकिन आज अचानक उसी मुद्दे पर सर्वदलीय बैठक बुलाने का क्या कोई खास उद्देश्य है? इस बात की क्या गारंटी है कि नित नये बयान देते हुए अपनी राजनीति की दुकान चलाने वाले आप फिर से धोखा नहीं देंगे।’

विशेष दर्जे को लेकर चंद्रबाबू पर राज्य को लोगों को नहीं है भरोसा 
विशेष दर्जे को लेकर चंद्रबाबू पर राज्य को लोगों को नहीं है भरोसा 
0 0
विशेष दर्जे को लेकर वाईएस जगन को हैं ये उम्मीदें...

‘विशेष दर्जे के लिये लोगों के साथ मिलकर वाईएसआरसीपी के चार वर्षों के अथक संघर्ष के बाद आखिरकार चंद्रबाबू की टीडीपी सहित पूरा देश जागा है।’ 

विशेष दर्जे को लेकर वाईएस जगन को हैं ये उम्मीदें...
विशेष दर्जे को लेकर वाईएस जगन को हैं ये उम्मीदें...
0 0

प्रजा संकल्प यात्रा वीडियो

View more

समाचार

170वें दिन की पदयात्रा डायरी, विफल मुख्यमंत्री चंद्रबाबू का क्या नाम रखा जाएं?

170वें दिन की पदयात्रा डायरी, विफल मुख्यमंत्री चंद्रबाबू का क्या नाम रखा जाएं?

गहरे नींद में सोये हुए व्यक्ति को स्पर्श करके उठाया जा सकता है। मगर गहरे नींद में सोये जैसा एक्टिंग करने वाले व्यक्ति के साथ हम क्या कर सकते है? चंद्रबाबू नायुडू जी, आपकी जन्मभूमि कमेटियां, आपके नेता लोगों के साथ अन्याय करते जा रहे हैं। लोगों के लूट रहे हैं। मगर आप मुंह तक नहीं खोल रहे हैं। ऐसे विफल मुख्यमंत्री का क्या नाम रखा जाएं। असमर्थ? गैरजिम्मेदारी?

More stories

Praja Sankalpa Yatra Gallery

View more