श्रीनगर : जम्मू एवं कश्मीर में गठबंधन से अलग होने के बाद भाजपा और पीडीपी एक-दूसरे पर हमलावर हैं। शुक्रवार को पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने भाजपा और केंद्र सरकार पर जोड़तोड़ की राजनीति का आरोप लगाया।

महबूबा मुफ्ती ने चुनौती भरे लहजे में कहा कि केंद्र सरकार जोड़-तोड़ की राजनीति न करे। उन्होंने कहा कि पीडीपी को तोड़ने की कोशिश न की जाए अगर ऐसा होता है तो घाटी में 90 के दशक जैसे हालात देखने को मिलेंगे।

यह भी पढ़ें :

जम्मू-कश्मीर में टूटा बीजेपी-पीडीपी गठबंधन, महबूबा मुफ्ती ने दिया इस्तीफा

महबूबा का शाह पर पलटवार, कहा- गठबंधन के एजेंडे से पीडीपी कभी नहीं हटी

जम्मू-कश्मीर के भाजपा अध्यक्ष रवींद्र रैना ने महबूबा के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि यह बेहद आपत्तिजनक बयान है। भाजपा किसी भी तरह की जोड़-तोड़ की राजनीति नहीं कर रही है।

गौरतबल है कि राज्य में गठबंधन की सरकार से भाजपा ने अपना समर्थन वापस ले लिया था, जिसके बाद महबूबा सरकार गिर गई और राज्यपाल शासन लागू हो गया है। तभी से दोनों ही पार्टियों के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है।