नई दिल्ली : रामगढ़ हत्याकांड के दोषियों को फूल मालाएं पहनाने के कारण विवाद में घिरे केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा ने गुरुवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को इस मुद्दे पर सीधी बहस की चुनौती दी।

जयंत सिन्हा ने ट्विटर के माध्यम से पूरे मामले पर खेद जताते हुए कहा कि कांग्रेस नेता को यदि लगता है कि उनका व्यक्ति आचार-व्यवहार सही नहीं है तो उन्हें मामले में सभ्य तरीके से बहस करनी चाहिए।

नागर विमानन राज्य मंत्री सिन्हा ने लिखा है, "मैं श्री राहुल गांधी जी को सीधी बहस का न्योता देता हूं।'' साथ ही उन्होंने एक नोट भी साझा किया है जिसमें 29 जून, 2017 को रामगढ़ में हुई घटना को "परेशान करने वाला और भयानक'' बताया गया है।

यह भी पढ़ें :

लिंचिंग आरोपियों के सम्मान पर जयंत ने जताया खेद, कहा- गलत मैसेज गया है

जयंत सिन्हा के खिलाफ ऑनलाइन याचिका शेयर कर समर्थन मांग रहे हैं राहुल गांधी

जयंत सिन्हा ने लिखा है, "(राहुल) गांधी को अपने सोशल मीडिया हैंडल के पीछे छुपकर लुका-छुपी वाली राजनीति से बाहर निकलने दें...।'' केन्द्रीय मंत्री ने राहुल की टिप्पणी पर लिखा है, कांग्रेस अध्यक्ष ने उन पर "व्यक्तिगत स्तर' पर हमला किया है।

उन्होंने लिखा है, "उन्होंने मेरी शिक्षा, मूल्यों और मानवता की निंदा की है। मैं उन्हें रामगढ़ हत्याकांड मामले पर हिन्दी या अंग्रेजी भाषा में सीधी बहस करने की चुनौती देता हूं।'