लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी ने आज सपा मुखिया अखिलेश यादव पर हमला बोलते हुए कहा कि अपने मुख्यमंत्री रहते अखिलेश ने जबर्दस्त भ्रष्टाचार किया। उनकी विचारधारा 'समाजवाद' नहीं बल्कि 'सुखवाद' की है।

भाजपा के उत्तर प्रदेश प्रवक्ता चंद्रमोहन ने कहा, ''क्षेत्रीय पार्टी की हैसियत रखने वाली सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अपने मुख्यमंत्रित्व वाली पिछली सरकार के कार्यकाल में जिस तरह भ्रष्टाचार का बोलबाला किया, उसकी ताकीद उनके रंग-ढंग से ही की जा सकती है।''

यह भी पढ़ें:

लोकसभा चुनाव 2019 : भाजपा को झटका, सपा-बसपा गठबंधन पर बढ़ा भरोसा

उन्होंने कहा, ''गरीबों के हिमायती होने का दिखावा करने वाले सपा मुखिया विलासिता के लिए विदेश यात्रा कर रहे हैं। अखिलेश की विचारधारा समाजवाद की नहीं बल्कि सुखवाद की है।'' चंद्रमोहन ने कहा कि अखिलेश तो वह साइकिल भी नहीं चलाते जो आम जनता चलाती है बल्कि वह जिस साइकिल को चलाकर खुद को समाजवादी कहने का ढोंग करते हैं उस साइकिल को खरीदना आम आदमी के बस की बात ही नहीं है।

उन्होंने कहा कि इसी विचारधारा के चलते अखिलेश ने अपने सरकारी आवास में भ्रष्टाचार के पैसे से सुख और आनन्द के वे सारे तामझाम किए थे जिसकी एक सरकारी आवास में कल्पना ही नहीं की जा सकती थी। यही वजह थी कि वह जाते वक्त सरकारी आवास से अपने ऐशो-आराम की चीजों को भी उखाड़ कर ले गए।

प्रवक्ता ने कहा कि अखिलेश प्रदेश की गरीब जनता का मजाक उड़ा रहे हैं। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष को प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सादगी से सीख लेनी चाहिए। उन्होंने कहा कि योगी किसी भी जिले में भ्रमण के दौरान वहां के महंगे होटलों में न रुककर सरकारी गेस्ट हाउस में ही ठहरते हैं।