नयी दिल्ली: AP में सत्ताधारी तेलुगू देशम पार्टी (TDP) ने फैसला किया है। वह संसद के आगामी मानसून सत्र में राज्य को विशेष दर्जा देने की मांग के साथ प्रदर्शन जारी रखेगी। एक विपक्षी सूत्र के मुताबिक, TDP नेतृत्व ने कई अन्य विपक्षी पार्टियों से संपर्क साध कर राज्य को विशेष दर्जा दिए जाने की अपनी मांग का समर्थन करने का अनुरोध किया है।

सूत्र ने कहा है कि AP को विशेष राज्य का दर्जा दिए जाने की अपनी मांग के मुद्दे पर भाजपा से नाता तोड़ चुकी तेदेपा ने बजट सत्र के दौरान यह मुद्दा उठाया था। 18 जुलाई से शुरू हो रहे मानसून सत्र में भी इस मुद्दे पर अपना प्रदर्शन जारी रखेगी। AP को विशेष दर्जा दिए जाने की मांग सहित कई अन्य मुद्दों पर अवरोधों एवं स्थगनों के कारण संसद के बजट सत्र में एक तरह से कोई काम नहीं हो सका था।

इसे भी पढ़ें :

18 जुलाई से शुरू होगा संसद का मानसून सत्र, इन मुद्दों पर सरकार को घेरेगा विपक्ष

एक वरिष्ठ विपक्षी नेता ने कहा कि संसद में सरकार को घेरने की रणनीति तैयार करने के लिए तेदेपा सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी कांग्रेस को पहले ही अपना एजेंडा बता चुकी है और संकेत कर चुकी है कि अन्य विपक्षी पार्टियों को उसका समर्थन करना चाहिए।

लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन और राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू ने सभी राजनीतिक पार्टियों से अपील की है कि वे सरकार को प्रभावी तरीके से संसद की कार्यवाही चलाने में मदद करें।