अनंतपुर : अपने बयानों से अकसर सूर्खियों में रहने वाले अनंतपुर से टीडीपी सांसद जेसी दिवाकर रेड्डी ने अब अपनी ही पार्टी के नेताओं पर निशाना बनाया है। उन्होंने टीडीपी के मंत्रियों व विधायकों को निकम्मे बताया। उन्होंने वामपंथियों को नहीं बख्शा और उन्हें सबसे बड़े चोर करार दिया।

अनंतपुर जिले के गार्लदिन्ने मंडल के मार्ताडु गांव में किसानों के साथ आयोजित एक सभा को संबोधित करते हुए सांसदने सत्तापक्ष के मंत्रियों, विधायकों, विधान परिषद सदस्यों के साथ वामपंथी नेताओं को लेकर विवादास्पद टिप्पणी की। उन्होंने बताया कि वह विधानसभा पहुंचने से पहले वामपंथियों को सबसे अच्छे नेता मानते थे, लेकिन बाद में पता चला कि वामपंथियों से बड़े चोर दुनिया में कहीं पर भी नहीं हैं।

उन्होंने टीडीपी के मंत्रियों व विधायकों को बिलकुल नल्ले और निकम्मे बताया और कहा कि इसीलिए सरकारी योजनाओं का सुचारू रूप से अमल नहीं हो पा रहा है। चंद्रबाबू नायडू द्वारा शुरू की गई योजनाओं में से केवल चंद्रन्ना बीमा योजना सबसे कारगर होने का हवाला देते हुए जेसी ने कहा कि हम समझ नहीं पा रहे हैं कि 1 रुपये किलो चावल योजना का लाभ आखिर किसे पहुंच रहा है।

इसेे भी पढ़ें :

चंद्रबाबू को राजनीतिक रूप से दफनाने के लिए भगवान बालाजी से प्रार्थना करूंगा : मोत्कुपल्ली

YSRCP ने किया एक साथ चुनाव का समर्थन, लॉ कमीशन को सौंपा नौ पेज का ज्ञापन

उन्होंने बताया कि राशन की दुकानों से खरीदे गए चावल को ब्लैक मार्केट में भेजा जा रहा है। जेसी के बयान से मंच पर आसीन टीडीपी के विधायक यामिनी बाला, विधान परिषद सदस्य शमंतकमणि आदि नेता एक तरह के अवाक् रह गए। सांसद ने कहा कि चंद्रबाबू नायडू उन्हें कोई पद नहीं देंगे और देंगे तो भी मुझे झेल नहीं पाएंगे।

उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री से उन्हें किसी तरह का लाभ नहीं मिला है और मैं मंत्री के रूप में काम कर चुका हूं, लेकिन अब जो सचिवालय में हैं, वे सभी मेरे पास काम कर चुके हैं।