हैदराबाद : तेलंगाना में एक साल से भी कम समय में लगातार विधानसभा चुनाव और लोकसभा चुनाव की तैयारी के मद्देनजर भाजपा ने राज्य में टीआरएस सरकार के खिलाफ राजनीतिक अभियान तेज कर दिया है। तेलंगाना प्रदेश इकाई के अध्यक्ष के.लक्ष्मण 23 जून से सात जुलाई तक राज्यभर में ‘जन चैतन्य यात्रा' का आयोजन कर रहे हैं।

लक्ष्मण ने यहां संवाददाताओं को बताया कि इस यात्रा का उद्देश्य के.चंद्रशेखर राव के नेतृत्व वाली सरकार के खिलाफ जनमत बनाना और केंद्र में नरेंद्र मोदी सरकार की उपलब्धियों को बताना है। उन्होंने बताया कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह विधानसभा और लोकसभा चुनावों के लिए पार्टी की तैयारियों का जायजा लेने के लिए 12 या 13 जुलाई को राज्य का दौरा करेंगे।

राज्य में 17 लोकसभा सीटों में भाजपा का लक्ष्य सिकंदराबाद समेत 15 पर जीत हासिल करना है। सिकंदराबाद से अभी केंद्रीय मंत्री बंडारू दत्तात्रेय सांसद हैं। लक्ष्मण ने बताया कि वरिष्ठ पार्टी नेता राम माधव को पांच लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों का प्रभारी बनाया गया है और नरेंद्र सिंह तोमर तथा मंगल पांडे को चार - चार निर्वाचन क्षेत्रों का प्रभारी बनाया गया है। भाजपा ने 2014 के चुनावों में तेलंगाना में केवल एक लोकसभा सीट जीती थी और 119 सदस्यीय विधानसभा में उसके पास पांच सीटें हैं।

इसे भी पढ़ें :

TRS ने राज्यसभा के उपसभापति पद के चुनाव के लिए अब तक नहीं बनाई रणनीति

PM से मिले सीएम KCR, 10 मांगों का पत्र सौंपकर, इन मुद्दों पर की चर्चा

पार्टी ने असम और त्रिपुरा में अपने प्रदर्शन से प्रेरणा लेते हुए अपने लिए महत्वाकांक्षी लक्ष्य तय किया है। भाजपा ने असम और त्रिपुरा में पहले के बिना किसी राजनीतिक आधार के सत्ता हासिल की। लक्ष्मण ने कहा , ‘‘ लोग कहते हैं कि केसीआर (के चंद्रशेखर राव) मजबूत सरकार है। लेकिन वह माणिक सरकार से ज्यादा मजबूत नहीं हो सकते। यहां तक कि हमारे पास त्रिपुरा में दो फीसदी वोट प्रतिशत नहीं था और ना ही एक भी विधायक था। ''

उन्होंने टीआरएस सरकार पर चुनावी वादों को पूरा ना करने का आरोप लगाया। भाजपा नेता ने कहा , ‘‘ तेलंगाना के लोग आक्रोशित और नाराज हैं। वे बदलाव चाहते हैं और भाजपा एक विकल्प है। कांग्रेस , तेदेपा और टीआरएस में कोई अंतर नहीं है। '' लक्ष्मण ने कहा , ‘‘ हम अकेले लड़ेंगे। हमारा लक्ष्य तेलंगाना में सरकार बनाना है। मोदी हमारे ‘ ब्रह्मास्त्र ' हैं और इसे तेलंगाना में इस्तेमाल किया जाएगा। ''