नई दिल्ली : भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने व्हिप जारी करते हुए अपने सांसदों को अगले दो दिन संसद में मौजूद रहने को कहा है। भाजपा ने संसद नहीं चलने देने को लेकर मंगलवार को विपक्ष की तीखी आलोचना की और इस बात का संकेत दिया वह विरोध-प्रदर्शन के बीच केंद्रीय बजट से संबंधित प्रक्रियाएं जारी रखेंगी।

भाजपा संसदीय दल की बैठक के बाद संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार द्वारा तीन पंक्ति की व्हिप जारी करते हुए पार्टी के सांसदों को अगले दो दिन संसद के दोनों सदनों में मौजूद रहकर विधेयकों को पारित कराने की रणनीति सुनिश्चित करने को कहा गया है।

बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह, पार्टी प्रमुख अमित शाह और वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी मौजूद थे। बैठक को कुमार के अलावा संसदीय कार्य राज्यमंत्री विजय गोयल व अर्जुन मेघवाल ने संबोधित किया, जबकि मोदी और शाह ने अपनी राय जाहिर नहीं की।

यह भी पढ़ें :

गिरिराज को लोकसभा से अयोग्य ठहराने के लिए आयोग से गुहार लगाएगा राजद

2019 से पहले नहीं होगा लोकसभा का चुनाव, जेटली ने अटकलों पर लगाया विराम

हंगामे के बीच पेश हुआ भगोड़े आर्थिक अपराधियों से जुड़ा बिल, लोकसभा दिनभर के लिए स्थगित

बैठक के बाद संवाददाताओं से बातचीत में अनंत कुमार ने कांग्रेस व अन्य दलों से सदन का कामकाज सुचारु ढंग से चलने देने का आग्रह किया। कुमार ने कहा, "ऐसा लगता है कि (कांग्रेस नेता) सोनिया गांधी और राहुल गांधी को लोकतंत्र में विश्वास नहीं है। वे लोकतंत्र के संबंध में बाहर जाकर बोलते हैं लेकिन संसद में नहीं बोलते हैं। कांग्रेस के जीन में लोकतंत्र नहीं है।"

उन्होंने अन्य दलों से लंबित विधेयकों पर रचनात्मक ढंग से परिचर्चा करने का आग्रह किया। भाजपा के एक नेता ने आईएएनएस से बातचीत में कहा कि वित्त विधेयक और अनुदान मांग को इस सत्र में पास करना जरूरी है। इसलिए पार्टी ने अपने सभी सांसदों को सदन में मौजूद रहने को कहा है।

तेलुगू देशम पार्टी और कुछ अन्य विपक्षी दलों के विभिन्न मुद्दों पर विरोध के बाद मंगलवार को संसद के दोनों सदनों को स्थगित कर दिया गया।

-आईएएनएस