चेवेल्ला (तेलंगाना) : रंगारेड्डी जिले में स्कूल में एक भी शिक्षक (टीचर) न होने के कारण सरपंच ही छात्रों को पढा रही है। यह घटना जिले के चेवेल्ला मंडल परिधि के गुंडाला सरकारी प्राथमिक स्कूल की है। इस सरकारी प्राथमिक स्कूल में एक से लेकर पांचवीं तक कक्षा हैं और 65 छात्र हैं।

आपको बता दें सरकारी स्कूल में एक शिक्षिका और एक शिक्षा स्वयं सेविका थी। इस साल में अब तक शिक्षा स्वयं सेवी भर्ती नहीं की गई है। एक शिक्षिका है। हाल ही में तेलंगाना सरकार ने शिक्षकों की तबादले की प्रक्रिया आरंभ की है। इसके चलते स्कूल की शिक्षिका का तबादला हो गया। इसके चलते वो भी दो-तीन दिन से स्कूल नहीं आ रही है।

दूसरी ओर गांव की सरपंच पुष्पा कुमारी गणेश के दो बच्चे इसी स्कूल में पढ़ते हैं। सरपंच ही अपने दो बच्चों को हर दिन स्कूल में छोड़कर जाती है। उसने शिक्षकों के बारे में पूछा तो हालात का पता चला। यह देख सरपंच पुष्पा लता ने ही बच्चों को पढ़ाना आरंभ कर दिया है।

इस अवसर पर पुष्पा लता ने सवाल कि इस सरकारी पाठशाला की सुध लेने वाला कोई नहीं है क्या? मेरे यहां आने से सब कुछ पता चला है। अगर मैं नहीं आती तो स्कूल को छुट्टी होती। बच्चों की देखभाल कौन करते और कौन पढ़ाते? बच्चों को कुछ हो जाता तो इसके जिम्मेदार कौन होंगे?

दूसरी ओर अधिकारियों ने बताया गुंडाला सरकारी प्राथमिक स्कूल में तीन शिक्षक पद खाली है। शीघ्र ही नये शिक्षकों की भर्ती की जाएगी।