यादाद्री (तेलंगाना) : तेलुगु देशम पार्टी के बहिष्कृत नेता मोत्कुपल्ली नरसिम्हा ने कहा कि तिरुमला तिरुपति देवस्थानम को पैदल रास्ते जाकर एपी मुख्यमंत्री नारा चंद्रबाबू नायुडू की हार के लिए वो भगवान बालाजी से प्रार्थना करेंगे। मेरे पैरों में दर्द है। फिर भी पैदल रास्ते जाकर चंद्रबाबू की हार के लिए भगवान बालाजी से प्रार्थना जरूर प्रार्थना करूंगा।

मोत्कुपल्ली ने बुधवार को जिले के आलेरु में मीडिया से यह बात कही। उन्होंने आगे कहा कि चंद्रबाबू नायुडू की टीडीपी एक दुष्ट पार्टी है। चंद्रबाबू ने आंध्र प्रदेश को एक भ्रष्टाचार प्रदेश बना दिया है।

चंद्रबाबू नायुडू (फाइल फोटो)
चंद्रबाबू नायुडू (फाइल फोटो)

बहिष्कृत नेता ने सरकार से सवाल किया कि वोट के बदले नोट मामले में पकड़े गये चंद्रबाबू नायुडू और रेवंत रेड्डी के खिलाफ अब तक कार्रवाई क्यों नहीं की गई है? उन्होंने आगे कहा कि एपी को विशेष दर्जा के लिए वाईएसआरसीपी के अध्यक्ष वाईएस जगनमोहन रेड्डी और जन सेना अध्यक्ष पवन कल्याण संघर्ष कर रहे हैं। मगर चंद्रबाबू नायुडू विशेष दर्जा के लिए कुछ भी नहीं कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें :

अब वाईएस जगनमोहन रेड्डी नाम की ‘आंधी’ को रोक नहीं पाएंगे टीडीपी सुप्रीमो चंद्रबाबू

टीटीडी को मुझे नोटिस भेजने का अधिकार नहीं है : विजयसाई रेड्डी

मोत्कुपल्ली ने एक फिर कहा कि चंद्रबाबू नायुडू ने एनटीआर के परिवार के साथ धोखा किया है। उन्होंने कहा कि चंद्रबाबू ने कापु, बीसी और ब्राह्मणों में झगड़ा लगा दिया है।

मोत्कुपल्ली ने भविष्यवाणी की कि आने वाले चुनाव में चंद्रबाबू की हार सुनिश्चित है। उन्होंने आगे कहा कि चंद्रबाबू नायुडू इस समाज में एक जहरीला कीड़ा है।

उन्होंने मांग की कि टीडीपी और एनटीआर परिवार को वापस लौटा दें। वर्ना आने वाले चुनाव में प्रदेश के लोग सबक सिखाएंगे।