ठाणे : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी मंगलवार को मानहानि के एक मामले की सुनवाई में और पार्टी के कार्यक्रमों में हिस्सा लेने मुंबई पहुंचे हैं।

राहुल के स्वागत में मुंबई हवाईअड्डे के बाहर सड़कों पर 'भावी प्रधानमंत्री' लिखे होर्डिग्स लगाए गए हैं। इस दौरान कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अशोक चव्हाण, मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरूपम, जनार्दन चंदुरकर, भाई जगताप, राजू वाघमारे और अन्य वरिष्ठ नेताओं ने राहुल का स्वागत किया।

राहुल यहां से ठाणे जिले से सटे भिवंडी अदालत के लिए रवाना हो गए, जहां चार साल पहले उनके खिलाफ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के एक कार्यकर्ता द्वारा दायर मानहानि के मामले में आरोप तय होने हैं। इस दौरान भिवंडी अदालत किले में तब्दील कर दिया गया है।

ये भी पढ़ें--

RSS मानहानि मामले में राहुल गांधी पर आरोप तय, भिवंडी कोर्ट में हुई पेशी

राहुल पर आरएसएस कार्यकर्ता राजेश कुंटे ने मामला दर्ज करवाया था। राजेश ने मार्च 2014 में एक चुनावी रैली में राहुल गांधी के शब्दों पर विरोध जताया था, जिसमें राहुल ने महात्मा गांधी की हत्या के लिए आरएसएस को दोषी ठहराया था।

दोपहर बाद राहुल मुंबई लौट आएंगे और गोरेगांव स्थित बम्बई एक्सिबिशिन सेंटर में पार्टी के 15,000 से अधिक बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं से मिलेंगे।

मुंबई कांग्रेस के अध्यक्ष संजय निरूपम ने कहा कि इस कार्यक्रम में एक राष्ट्रीय प्रयास 'परियोजना शक्ति' को लॉन्च किया जाएगा, जिसके जरिए कांग्रेस अध्यक्ष जमीनी स्तर के कार्यकताओं और पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व के बीच सीधा संपर्क स्थापित करेंगे।

राहुल शाम को पार्टी के नगरनिगम पार्षदों और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के अध्यक्ष शरद पवार से भी मुलाकात कर सकते हैं।