कटिहार: जिले के आजमनगर थाना इलाके में वीभत्स घटना देखने को मिली। यहां एक महादलित परिवार को उसकी ही झोंपड़ी में बांधकर आग के हवाले कर दिया गया। इस घटना में 2.5 और 5 साल की दो मासूम बेटियों की मौत हो गई। जबकि दिव्यांग मां और पिता की हालत बेहद नाजुद है।

आजमनगर थाना इलाके में हुई इस वारदात के पीछे भूमि विवाद बताया जाता है। पुलिस ने फिलहाल दो आरोपियों अब्दुल रहमान और उसकी पत्नी को गिरफ्तार कर लिया है और बाकी आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी है।

यह भी पढ़ें:

SC/ST एक्‍ट पर बंदी के विरोध में दलित नेताओं का घर जलाया

पुलिस के अनुसार, घोरदह गांव में बज्जन दास गांव के ही एक चौक के समीप अपनी चाय की दुकान चलाते थे। इस जमीन को लेकर गांव के कुछ लोगों से इनका विवाद था।

पुलिस के एक अधिकारी ने सोमवार को बताया कि रविवार की रात दास परिवार के लोग जब अपने घर में सोए हुए थे, तभी कुछ लोगों ने घर का दरवाजा बाहर से बंदकर घर में आग लगा दी। इस घटना में दो बच्चों प्रीति और किरण की मौत हो गई, जबकि बज्जन और उसकी पत्नी गंभीर रूप से झुलस गए।

घायल अवस्था में दोनों को कटिहार के सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां दोनों की स्थिति गंभीर बनी हुई है। पुलिस के अधिकारी ने बताया कि प्रथमदृष्टया मामला भूमि विवाद का लग रहा है। पुलिस मामले की सभी कोणों से छानबीन कर रही है। इस मामले में पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है।