औरंगाबाद(बिहार): दाउदनगर के दाउद खां का किला घूमने गये युवक और युवती के साथ मारपीट का वीडीयो वायरल होने के मामले उदभेदन कर लिया गया है. इस मामले का उदभेदन करते हुए पुलिस ने तीन आरोपितों को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार आरोपितों में युवक- युवती के साथ मारपीट करने वाला युवक शमशाद उर्फ गुड्डू, मारपीट की घटना का वीडीयो बनाने वाला युवक पिंटू उर्फ असगर और वहां पर मौजूद अधेड़ रघुनाथ नारायण राय शामिल है।

शमशाद उर्फ गुड्डु पेशे से वीडीयोग्राफर है। थानाध्यक्ष अभय कुमार सिंह ने गुरुवार की देर शाम दाउदनगर थाना परिसर में

आयोजित प्रेस वार्ता में बताया कि वीडीयो वायरल होने के बाद एसडीपीओ संजय कुमार के नेतृत्व में पुलिस ने गहन छानबीन करते हुए इस मामले का उद्भेदन कर लिया है और घटना में शामिल तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है।

तीनों आरोपितों ने इस घटना में अपनी संलिप्तता स्वीकार कर लिया है। गिरफ्तार तीनों आरोपित पुराना शहर वार्ड संख्या दो के निवासी हैं। थानाध्यक्ष ने बताया कि युवक और युवती दाउद खां का किला घूमने गए थे। इसी दौरान आरोपितों ने उन्हें पकड़ लिया।

शमशाद उर्फ गुड्डू द्वारा उसके साथ युवक -युवती के साथ मारपीट की गई, जो वायरल वीडीयो में साफ दिख रहा है। जबकि पिंटू उसका वीडियो बना रहा था और वीडीयो बनाकर शेयर इट के माध्यम से शमशाद उर्फ गुड्डू को दिया। शमशाद ने उस वीडीयो को अन्य लोगों के पास शेयर कर दिया।

रघुनाथ नारायण राय पर आरोप है कि घटना के समय वे वहां पर मौजूद थे और युवती उनसे बचाने की गुहार लगा रही थी, लेकिन उन्होंने बचाना तक उचित नहीं समझा। यह भी वीडीओ में दिख रहा है। तीनों आरोपितोन ने घटना में अपनी संलिप्तता स्वीकार करते हुए पुलिस को बताया है कि यह घटना करीब एक महीना पुरानी है। उस समय इंटरमीडिएट की 11 वीं कक्षा की जांच परीक्षा चल रही थी और युवक युवक-युवती दाउद खां का ऐतिहासिक किला में घूमने गए थे। थानाध्यक्ष ने बताया कि वीडीयो वायरल होने के बाद इसकी गहन छानबीन की गई और थानाध्यक्ष के बयान पर एक प्राथमीकी दर्ज की गयी, जिसमें एक नामजद, तीन अज्ञात और वीडीयो वायरल करने वाले मोबाइल धारक के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई।