वाशिंगटन : अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन 12 जून को मुलाकात करेंगे। यह घोषणा शुक्रवार को ट्रंप ने की। उन्होंने कहा कि अभी तक अमेरिका उत्तर कोरिया के साथ सिंगापुर में होने वाली संभावित बैठक से पीछे हट गया था, लेकिन अब यह बैठक अपने तय कार्यक्रम के अनुसार ही होगी।

गौरतलब हो कि बुधवार को ट्रंप ने किम पत्र लिखा था। जिसमें उन्होंने 12 जून को प्रस्तावित बातचीत रद्द करने की घोषणा की थी। इस फैसले का कारण प्योंगयोंग के 'बेहद नाराजगी भरे और भड़काउ' रवैये को बताया था।

इसे भी पढ़ें

पैदल सीमा पार कर अंतर कोरियाई सम्मेलन में हिस्सा लेंगे किम जोंग उन

वहीं उत्तर कोरिया के राजदूत किम योंग चोल ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से कल व्हाइट हाउस में मुलाकात की। इस दौरान राजदूत ने उन्हें उत्तर कोरियाई नेता का पत्र सौंपा। इस पत्र की विषयवस्तु के बारे में फिलहाल पता नहीं चल सका है, लेकिन वाल स्ट्रीट जर्नल के मुताबिक माना जा रहा है कि किम जोंग उन ने ट्रंप के साथ शिखर वार्ता में दिलचस्पी दिखाई है। यह वार्ता 12 जून को सिंगापुर में प्रस्तावित है।

किम के बेहद करीबी माने जाने वाले चोल अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोंम्पिओ से दो दिन बातचीत करने के बाद वाशिंगटन पुहंचे हैं। चोल का नाम अभी तक अमेरिका की प्रतिबंधित सूची में था।

इसे भी पढ़ें

तानाशाह किम जोंग उन से मई में मुलाकात करेंगे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप

यह प्रतिबंध अभी भी है अथवा नहीं इस पर कुछ पता नहीं चल पाया है। वह कल तक यहां रूक सकते हैं। किसी उत्तर कोरियाई अधिकारी ने 18 साल बाद ओवल कार्यालय में अमेरिकी राष्ट्रपति से मुलाकात की है।