नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सोमवार की सुबह में अपनी अनौपचारिक रूस यात्रा के रवाना हो गए हैं। दोबारा रूस का राष्ट्रपति चुने जाने के बाद ब्लादिमीर पुतिन ने 2 हफ्ते के अंदर पीएम मोदी को इनफॉर्मल मुलाकात के लिए न्योता दिया था। जिसके बाद मोदी आज रूस के लिए रवाना हुए हैं। दोनों नेताओं की रूस के शहर सोची में मुलाकात होगी।

बताया जा रहा है कि इस अनौपचारिक शिखर बैठक में वैश्विक मुद्दों के अलावा ईरान के साथ परमाणु समझौते से अमेरिका के हटने पर खास तौर पर चर्चा होगी।

इसे भी पढ़ें

प्रधानमंत्री मोदी ने रूस के राष्ट्रपति पुतिन से की बात, सीरिया संकट पर की चर्चा

अपनी रूस यात्रा के लिए रवाना होने से पहले रविवार शाम में पीएम मोदी ने पहले रूसी भाषा फिर अंग्रेजी में कई ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी। ट्वीट में उन्होंने लिखा कि राष्ट्रपति पुतिन के साथ बातचीत द्विपक्षीय रिश्तों को नई ऊंचाई पर ले जाएगी। मोदी ने लिखा कि 'मुझे यकीन है कि राष्ट्रपति पुतिन के साथ बातचीत भारत और रूस के बीच विशेष और विशेषाधिकार युक्त रणनीतिक भागीदारी और अधिक मजबूत होगी।'

एक अन्य ट्वीट में मोदी ने रूस के लोगों को शुभकामनाएं देते हुए लिखा कि 'मैं सोचि के कल के अपने दौरे और राष्ट्रपति पुतिन के साथ अपनी मुलाका के प्रति आशान्वित हूं, उनसे मिलना मेरे हमेशा सुखदायी रहा है।'

इसे भी पढ़ें

PM मोदी की 3 देशों की विदेश यात्रा आज से, यूएई में रखेंगे मंदिर की आधारशिला

सोचि एयरपोर्ट पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का रूस के टॉप अधिकारी स्वागत करेंगे। इसके बाद पीएम मोदी पुतिन के रिजॉर्ट पर जाएंगे।

रूस में भारत के राजदूत पंकज सारन ने एक अन्य जानकारी देते हुए बताया कि इस के आखिर तक पुतिन भी भारत का दौरा करेंगे। बीते दस दिनों में पुतिन ने कई देशों के नेताओं से मुलाकात की है। इस साल पुतिन और पीएम मोदी की यह पहली बैठक होगी।