नई दिल्ली : चुनाव आयोग आप के 20 विधायकों के मामले में कल सुनवाई शुरू करेगा। दिल्ली उच्च न्यायालय ने कथित तौर पर लाभ का पद संभालने के लिए विधायकों की अयोग्यता खारिज कर दी थी। अदालत ने चुनाव आयोग से मामले की नए सिरे से सुनवाई करने को कहा है, क्योंकि चुनाव आयोग द्वारा उन्हें अयोग्य करार दिए जाने से पहले विधायकों की उचित तरीके से सुनवाई नहीं की गई थी।

आयोग ने पिछले महीने दिल्ली के 20 विधायकों को निजी तौर पर या अपने कानूनी प्रतिनिधियों के जरिए मौखिक सुनवाई के लिए 17 मई को दिन में तीन बजे पेश होने का निर्देश दिया था। उच्च न्यायालय के 23 मार्च के आदेश के बाद चुनाव आयोग ने सुनवाई बहाल करने का फैसला किया।

इन्हें भी पढ़ें

आम आदमी पार्टी ने पूछा, मैक्स अस्पताल से भाजपा का क्या है रिश्ता?

गुजरात चुनाव में आम आदमी पार्टी आगे, सबसे पहले मैदान में उतारे 11 उम्मीदवार

अदालत ने कहा था कि ये सिफारिश प्राकृतिक न्याय के सिद्धांत के विपरीत और कानून में बुरी थी। आयोग के एक अधिकारी ने कहा, 'मामले के गुण- दोष पर मौखिक सुनवाई होगी।' विधायकों ने लाभ का पद संभालने के आधार पर अपनी अयोग्यता को चुनौती दी थी। इन विधायकों को संसदीय सचिव नियुक्त किया गया था।