कर्नाटक : विधानसभा चुनाव के परिणाम सामने आने के बाद से प्रदेश की राजनीति में मचा घमासान खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। इस बीच जेडीएस और कांग्रेस नेता विधायकों की परेड कराने के लिए राजभवन पहुंच गए हैं और 117 विधायकों के समर्थन की बात कह रहे हैं।

कांग्रेस और जेडीएस नेता अपने विधायकों के साथ राजभवन में राज्यपाल से मुलाकात का इंतजार कर रहे थे। इस दौरान राज्यपाल ने कांग्रेस और जेडीएस के 10 विधायकों को मिलने की मंजूरी दी है। जिसके बाद कांग्रेस नेता परमेश्वर जेडीएस नेता कुमारस्वामी के साथ राज्यपाल से मिलने गए।

राज्यपाल को जेडीएस की तरफ से सौंपे गए प्रथार्ना पत्र पर 117 विधायकों के हस्ताक्षर हैं। इसमें 78 कांग्रेस, 37 जेडीएस, एक बसपा और एक निर्दलीय विधायक के हस्ताक्षर हैं। बता दें कि कर्नाटक में 222 सीटों पर मतदान हुआ था, इस हिसाब से बहुमत के लिए 112 विधायकों का ही समर्थन चाहिए। जबकि बीजेपी के पास सिर्फ 104 विधायक हैं।

इन्हें भी पढ़ें

प्रियंका की सलाह पर राहुल ने JDS को दिया मुख्यमंत्री पद, ऐसा बना था कांग्रेस का ‘प्लान B’

कर्नाटक में बनेगी भाजपा सरकार, येदियुरप्पा कर रहे शपथ लेने की तैयारी!

बता दें कि बुधवार को जेडीएस नेता कुमारस्वामी ने भाजपा पर विधायकों की खरीद-परोख्त का आरोप लगाया है। वहीं कांग्रेस के जेडीएस को दिए जाने वाले समर्थन पत्र पर 78 में 75 विधायकों ने ही हस्ताक्षर किए हैं।