बेंगलुरू : कर्नाटक में किसकी सरकार बनेगी, अभी तय नहीं है, लेकिन सियासी पारा अपने चरम पर है। सभी पार्टियों ने एक-दूसरे पर नैतिकता की दुहाई देते हुए तोड़फोड़ का आरोप लगाया है। कांग्रेस को डर है कि भाजपा सरकार बनाने के लिए किसी भी हद तक जा सकती है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा है कि भाजपा सरकार बनाने के लिए हमारे विधायकों को लालच दे रही है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सत्ता पर काबिज होने के लिए सभी हथकंडे अपना सकती है, लेकिन कांग्रेस विधायक एकजुट हैं और हम जेडीएस को समर्थन देंगे।

यह भी पढ़ें :

कर्नाटक चुनाव : कांग्रेस में भाजपा ने लगाई सेंध, 5 विधायक ‘लापता’!

येदियुरप्पा को आज चुना जाएगा भाजपा विधायक दल का नेता, सरकार बनाने का दावा करेंगे पेश

विधायकों में तोड़फोड़ के डर से कांग्रेस ने एक रिजॉर्ट में 120 कमरे बुक करवाए हैं, जहां सभी विधायकों को रखा जाएगा। साथ ही जेडीएस आलाकमान के साथ कांग्रेस नेता लगातार संपर्क में हैं। वहीं दूसरी ओर खबर यह भी है कि कांग्रेस के लिंगायत समुदाय के 5 विधायकों के 'लापता' होने की सूचना है। इन विधायकों के लापता होने से कांग्रेसी खेमे में खलबली है।

सूत्रों के मुताबिक, बीएस येदियुरप्पा अपना दिल्ली के दौरा रद्द करने के बाद से ही सरकार बनाने की जुगत में लग गए थे और कहा यह भी जा रहा है कि इन्होंने कांग्रेस और जेडीएस के उन तमाम विधायकों के साथ एक गोपनीय बैठक भी की है, जो इनके प्रति सॉफ्ट कॉर्नर रखते हैं और मौका पड़ने पर किसी भी तरह से मदद करने को तैयार हैं।