करीमनगर (तेलंगाना) : मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने कहा कि तेलंगाना लोगों के कल्याण के लिए आगामी 2 जून को एक और क्रांतिकारी योजना का उद्घाटन किया जाएगा। आगामी दो जून से भूमि के पंजीकरण सहित सभी कार्य तहसीलदार कार्यालय में होंगे। इसके चलते तहसील कार्यालय में लोगों की सभी प्रकार की समस्याओं का समाधान हो जाएगा।

मुख्यमंत्री ने गुरुवार को जिले के हुजुराबाद मंडल परिधि के इंदिरानगर में 'रैतु बंधु' (किसान मित्र) कार्यक्रम का उद्घाटन किया। इसके बाद केसीआर ने धर्मराजुपल्ले गांव के दस किसानों को पासबुक और पूंजी सहायता चेकों को वितरण भी किया।

ये भी पढ़ें :

KCR ‘रैतु बंधु’ योजना का गुरुवार को करेंगे उद्घाटन, किसानों को दिये जाएंगे चार हजार के चेक

कैशियर की पत्नी न्यायिक हिरासत में, बैंक रकम उड़ा ले गया पति

इस अवसर पर आयोजित आमसभा को संबोधित करते हुए केसीआर ने कहा, "आगामी 2 जून से किसानों को पंजीकरण कार्यालय जाने की आवश्यकता नहीं है। तेलंगाना के मंडल केंद्रों के तहसीलदारों को सभी प्रकार की जिम्मेदारी सौंप दी गयी है। भूमि खरीदना हो या बेचना हो तो पूरी प्रक्रिया कुछ ही पलों में हो जाएगी। भूमि संबंधि सभी प्रकार की जानकारी 'धरणी' वेबसाइट में अपलोड कर दी जाएगी। इस पंजीकरण के चलते आरओआर के लिए किसी प्रकार की समस्या नहीं रहेगी। इतना नहीं किसी प्रकार के घोटाले मौका नहीं रहेगा।

ये भी पढ़ें :

वंगवीटी रंगा हत्या के मामले में YDP विधायक रामकृष्ण बाबू तीसरा आरोपी : विजयसाई रेड्डी

सूरी हत्या के मुख्य आरोपी भानु किरण को अवैध हथियार के मामले में एक साल की सजा

केसीआर ने आगे कहा, "एक और मुख्य बात आगामी 2 जून के बाद किसी भी व्यक्ति अपना पासबुक बैंक में गिरवी रखने की जरूरत नहीं रहेगी। बैंक में पासबुक गिरवी रखना नियम के खिलाफ है।"