नई दिल्ली : वाईएसआरसीपी के सांसद ने मंगलवार को राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद से मुलाकात की। सांसदों ने विशेष दर्जा के लिए राज्य में वाईएसआरसीपी के नेतृत्व में जारी आंदोलन की जानकारी दी। साथ ही विशेष दर्जा किस प्रकार से पांच करोड़ लोगों की आकांक्षाओं हैं, इस बारे में जारी आंदोलन के बारे में बताया।

सांसदों ने राष्ट्रपति को बताया कि केंद्र और राज्य सरकार ने मिलकर विशेष दर्जा मुद्दे पर किस तरह से धोखा दिया है। सांसदों ने यह भी बताया कि विशेष दर्जा के लिए वाईएसआरसीपी किस प्रका से राज्य की पांच करोड़ लोगों की आकांक्षाओं के समर्थन में आंदोलन कर रही है।

वाईएसआरसीपी  सांसद (फाइल फोटो)
वाईएसआरसीपी सांसद (फाइल फोटो)

आपको बता दें कि वाईएसआरसीपी के पांच सांसदों ने हाल ही में विशेष दर्जा की मांग के समर्थन में इस्तीफा दिया था। इसके अलावा पार्टी के अध्यक्ष वाईएस जगन मोहन रेड्डी के आह्वान पर सांसदों ने दिल्ली में एपी भवन के सामने आमरण अनशन पर बैठ गये थे। सांसदों की तबीयत बिगड़ जाने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। जहां जबरन उनका अनशन भंग किया गया।

इसी क्रम में विशेष दर्जा की मांग के समर्थन में सोमवार को एपी बंद मनाया गया। राज्य में घटित इन सभी घटनाओं के बारें में सांसदों ने राष्ट्रपति को बताया। साथ ही विशेष दर्जा की मांग को लेकर राज्य में जारी आंदोलन की विस्तार से जानकारी दी।